भारतीय पासपोर्ट की रैंकिंग में 7 अंक का सुधार, पिछले वर्ष 6 अंक गिर गया था

अमेरिका और ब्रिटेन के पासपोर्ट ने 2020 में 8वें स्थान पर गिरने के बाद अपनी पिछली ताकत हासिल कर ली है। 186 वीजा मुक्त और वीजा आन अराइवल स्कोर के साथ दोनों देश के पासपोर्ट छठे स्थान पर हैं। हेनले पासपोर्ट इंडेक्स दुनिया के सबसे अधिक यात्रा-अनुकूल पासपोर्टों को सूचीबद्ध करता है।

भारतीय पासपोर्ट की रैंकिंग में 7 अंक का सुधार, पिछले वर्ष 6 अंक गिर गया था

कोरोनो महामारी के वक्त पिछले साल छह पायदान गिरी भारतीय पासपोर्ट की रैकिंग में इस साल की शुरुआत में 7 अंक का सुधार हुआ है। हेनले पासपोर्ट इंडेक्स की ताजी रिपोर्ट के अनुसार भारतीय पासपोर्ट की रैकिंग अब 83 हो चुकी है, जो पिछले साल 90 थी। हेनले पासपोर्ट इंडेक्स में जापान और सिंगापुर दुनिया के सबसे शक्तिशाली पासपोर्ट हैं जबकि अफगानिस्तान सबसे नीचे है।

​हेनले की रिपोर्ट के अनुसार जापान और सिंगापुर के पासपोर्ट धारक अब दुनिया भर के 192 गंतव्यों में वीजा मुक्त प्रवेश कर सकते हैं जबकि इंडेक्स में सबसे नीचे पायदान पर अफगानिस्तान के पासपोर्ट धारक मात्र 26  देशों में वीजा मुक्त प्रवेश कर सकते हैं। जर्मनी और दक्षिण कोरिया नवीनतम रैंकिंग में संयुक्त रूप से दूसरे स्थान पर हैं। इन दोनों देशों के पासपोर्ट धारक 190 गंतव्यों पर बिना वीजा के जा सकते हैं।