विश्व बैंक का अनुमान: 2021-22 में 8.3 फीसदी रहेगी भारत की विकास दर

कोरोना वायरस महामारी के पूरी दुनिया में बढ़ते मामलों और इसके नए और अधिक संक्रामक वैरिएंट ओमिक्रॉन के बढ़ते प्रसार के बीच विश्व बैंक ने वैश्विक अर्थव्यवस्था में वृद्धि के अनुमान को घटा लिया है।

विश्व बैंक का अनुमान: 2021-22 में 8.3 फीसदी रहेगी भारत की विकास दर
Photo by Markus Krisetya / Unsplash

वर्तमान वित्त वर्ष यानी साल 2021-22 में भारत की आर्थिक वृद्धि 8.3 फीसदी रह सकती है। यह जानकारी 'वैश्विक आर्थिक संभावना' (Global Economic Prospects) में दी गई। इस रिपोर्ट में साल 2022-23 के लिए भारत के आर्थिक विकास की दर 8.7 फीसदी रहने का अनुमान जताया गया है। यह जानकारी विश्व बैंक ने हाल ही में जारी की है।

उल्लेखनीय है कि भारत के सकल घरेलू उत्पाद (GDP) में 8.3 फीसदी वृद्धि के अनुमान को विश्व बैंक ने अक्तूबर 2021 में जारी अपने पिछले अनुमान के अनुसार ही बरकरार रखा है। इसके अलावा विश्व बैंक ने वित्त वर्ष 2021-22 के लिए चीन की जीडीपी में विकास की दर के अनुमान को 8.5 फीसदी से घटाकर अब आठ फीसदी कर दिया है।