इन नामी प्रवासी भारतीयों को इस अमेरिकी संगठन ने बड़ों पदों पर नियुक्ति दी

पूरन डांग पचास वर्षों से अधिक समय से प्रवासी भारतीय समुदाय के नेता हैं। उन्होंने अंतरराष्ट्रीय ख्याति के कई संगठनों की स्थापना की है। उन्होंने IIT के पूर्व छात्रों के पहले IIT पूर्व छात्र संघ की स्थापना की, जो पूरी दुनिया में PAN-IIT के रूप में विकसित हुआ।

इन नामी प्रवासी भारतीयों को इस अमेरिकी संगठन ने बड़ों पदों पर नियुक्ति दी

अमेरिका के मैसाचुसेट्स के शहर लेक्सिंगटन आधारित गैर-लाभकारी संगठन विज़न-एड (Vision-Aid) के निदेशक मंडल ने पूरन डांग को अध्यक्ष एमेरिटस (आजीवन) और वीना हांडा को पांच साल की अवधि के लिए सलाहकार बोर्ड के उपाध्यक्ष के रूप में नियुक्त किया है। दृष्टिबाधित लोगों के लिए उनके योगदान देखते हुए यह फैसला किया गया है। विज़न-एड दृष्टिबाधित लोगों के लिए काम करता है।

डांग पचास वर्षों से अधिक समय से प्रवासी भारतीय समुदाय के नेता हैं। उन्होंने अंतरराष्ट्रीय ख्याति के कई संगठनों की स्थापना की है। उन्होंने IIT के पूर्व छात्रों के पहले IIT पूर्व छात्र संघ की स्थापना की, जो पूरी दुनिया में PAN-IIT के रूप में विकसित हुआ।