कार्तिक के लिए कनाडा की सड़क पर छात्र, भारतीय राजदूत ने दिया साथ

कार्तिक टोरंटो के सेनेका कॉलेज के छात्र थे। सेनेका कॉलेज ने भी घटना पर हैरानी जताई है। कॉलेज प्रशासन का कहना है कि हम दुख की इस घड़ी में कार्तिक के परिवार के साथ खड़े हैं और अपने छात्रों और कर्मचारियों को काउंसलिंग सहायता मुहैया करा रहे हैं।

कार्तिक के लिए कनाडा की सड़क पर छात्र, भारतीय राजदूत ने दिया साथ
सड़क पर छात्रों के साथ आईं भारतीय महावाणिज्य दूत अपूर्वा श्रीवास्तव

कनाडा में भारतीय छात्र कार्तिक वासुदेव की हत्या के विरोध में जुलूस निकाला गया, जिसमें भारतीय महावाणिज्य दूत अपूर्वा श्रीवास्तव भी शामिल हुईं। कार्तिक को पिछले गुरुवार को उस वक्त गोली मार दी गई थी जब वह टोरंटो के सबवे स्टेशन जा रहे थे। अभी तक भारतीय छात्र के हत्यारे को गिरफ्तार नहीं किया जा सका।

टोरंटो पुलिस स्थानीय लोगों से पूछताछ कर रही है लेकिन उसका कोई पता नहीं चल पाया है। गिरफ्चारी में हो रही देरी पर भारतीय दूतावास ने स्थानीय प्रशासन से मांग की है कि कार्तिक की मौत के मामले की जांच जल्द से जल्द पूरी हो और पीड़ित परिवार को न्याय दिलाया जाए। उधर, कार्तिक के शव का पोस्टमॉर्टम कर दिया गया है और अब भारत भेजने की तैयारी चल रही है।

कार्तिक की बीते गुरुवार को टोरंटो में हत्या कर दी गई थी

कार्तिक कनाडा के सेनेका कॉलेज के छात्र थे। उनकी याद में कॉलेज ने जुलूस आयोजित किया जिसमें छात्र पोस्टर-बैनर लेकर पहुंचे और कार्तिक के लिए न्याय की मांग की। वहीं,  छात्रों की यह भी मांग थी कि कनाडा में अंतरराष्ट्रीय छात्रों के खिलाफ 'हेट क्राइम' पर रोक लगनी चाहिए और उन्हें यहां सुरक्षित महसूस कराया जाना चाहिए। छात्रों का साथ देने भारतीय महावाणिज्य दूत अपूर्वा श्रीवास्तव भी पहुंचीं और छात्रों का उत्साह बढ़ाया। उन्होंने कहा कि वाणिज्य दूतावास कार्तिक के शव को भारत भेजने के लिए उनके परिवार के साथ काम कर रहा है। उन्होंने साथ ही कहा कि दूतावास कार्तिक की हत्या मामले की जांच के लिए स्थानीय प्रशासन के संपर्क में है।

कनाडा में भारतीय राजदूत अजय बिसारिया ने भी ट्विटर का सहारा लेते हुए मामले पर ताजा जानकारी दी। उन्होंने लिखा, 'भारतीय नागरिक कार्तिक वासुदेव की त्रासदीपूर्ण मौत पर अपडेट। पोस्टमॉर्टम संपन्न हो गया है और ऐसी उम्मीद है कि इस सप्ताह उनका शव भारत पहुंच जाएगा। हम लगातार मामले की जल्द जांच कराए जाने और न्याय दिलाने का मुद्दा उठा रहे हैं।'

कार्तिक का परिवार भारत के गाजियाबाद शहर में रहता है। कार्तिक सेनेका कॉलेज में मार्केटिंग मैनेजमेंट के पहले सेमेस्टर के छात्र थे। कार्तिक के लिए गाजियाबाद में उनके स्कूल के पास कैंडल मार्च निकाला गया जिसमें सैंकड़ों लोगों ने हिस्सा लिया। उनके भाई गौरव वासुदेव जो खुद एक मीडियाकर्मी हैं, ने प्रदर्शन का वीडियो सोशल मीडिया पर शेयर किया है।  उधर, सेनेका कॉलेज ने भी घटना पर दुख जताया है। कॉलेज का कहना है कि हम दुख की इस घड़ी में कार्तिक के परिवार के साथ खड़े हैं और अपने छात्रों और कर्मचारियों को काउंसलिंग सपोर्ट मुहैया करा रहे हैं।