ASEM शिखर सम्मेलन में भारत का नेतृत्व करेंगे उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू

इस शिखर सम्मेलन का विषय "साझा विकास के लिए बहुपक्षवाद की मज़बूती" होगा और यह सम्मेलन वर्चुअली आयोजित किया जाएगा। यह शिखर सम्मेलन ASEM प्रक्रिया की 25वीं वर्षगांठ को भी चिह्नित करेगा। सम्मेलन में कई राष्ट्राध्यक्षों/सरकार के प्रमुखों के भाग लेने की उम्मीद जताई जा रही है।

ASEM शिखर सम्मेलन में भारत का नेतृत्व करेंगे उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू
भारत के उपराष्ट्रपति पहले पूर्ण सत्र और शिखर सम्मेलन के रिट्रीट सत्र में भी भाग लेंगे।

इस वर्ष वर्चुअली आयोजित होने दो दिवसीय एशिया-यूरोप मीटिंग (ASEM)  शिखर सम्मेलन में भारत के उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू भारतीय प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व करेंगे। यह सम्मेलन 25 और 26 नवंबर को आयोजित किया जाएगा।

साल 2008 में आयोजित सातवें ASEM शिखर सम्मेलन में भारत की ओर से पहली शिखर-स्तरीय भागीदारी देखी गई थी।

एशिया-यूरोप मीटिंग मोटे तौर पर एशिया और यूरोप के देशों के लिए क्षेत्रीय और वैश्विक मुद्दों पर विचारों का आदान-प्रदान करने और दोनों क्षेत्रों के विस्तृत मुद्दों पर सहयोग को मजबूत करने का एक मंच है।