अमेरिकी कंपनी को भारत की पुनिष्का हेल्थकेयर को खरीदकर क्या हासिल हुआ?

पुनिस्का के भारत में मौजूद 8 केंद्रों पर 4,500 से अधिक प्रतिभाशाली कर्मचारी हैं जो मुख्य वैश्विक विनिर्माण और अनुसंधान एवं विकास कार्यों से जुड़े हुए हैं। कंपनी को उम्मीद है कि इस खरीद से हम वैश्विक इंजेक्शन बाजार में अग्रणी खिलाड़ी बनने की उम्मीद करते हैं।

अमेरिकी कंपनी को भारत की पुनिष्का हेल्थकेयर को खरीदकर क्या हासिल हुआ?

अमेरिका की एमनील फार्मास्युटिकल्स ने भारत की पुनिस्का हेल्थकेयर प्राइवेट लिमिटेड का अधिग्रहण कर लिया है। एमनील ने पुनिस्का हेल्थकेयर प्राइवेट को 93 मिलियन डॉलर (लगभग 700 करोड़ रुपये) में खरीदा है। कंपनी के अनुसार हाल ही किए गए इस अधिग्रहण में उसने एमनील के इंजेक्टेबल्स विनिर्माण बुनियादी ढांचे, क्षमताओं और अमेरिकी बाजार का समर्थन करने की क्षमता और अंतरराष्ट्रीय बाजारों के लिए एक नींव के रूप में काम करने की क्षमता में काफी वृद्धि हुई है।

कंपनी ने बताया कि पुनिस्का के अधिग्रहण किए जाने से कंपनी को भारत के राज्य गुजरात के अहमदाबाद में कंपनी के 2,93,000 वर्ग फुट का एक अत्याधुनिक विनिर्माण सुविधा केंद्र भी हासिल हुआ है जिसमें कई बांझ इंजेक्शन योग्य उत्पादन केंद्र हैं। इस अधिग्रहण से एमनील में लगभग 550 पुनिस्का कर्मचारी भी शामिल हुए हैं जिनके पास इंजेक्शन योग्य निर्माण, अनुसंधान एवं विकास और व्यावसायीकरण की प्रमुख क्षमताएं हैं।