भारत: महामारी के दौर में IELTS परीक्षा देने वालों में हुआ 15 फीसदी का इजाफा

IDP एजुकेशन के क्षेत्रीय निदेशक (दक्षिण एशिया और मॉरीशस) पीयूष कुमार ने बताया कि आईडीपी ने गांधीनगर, आनंद, रायपुर, शिमला, कुरुक्षेत्र, जम्मू, त्रिची, त्रिशूर, पटना, गुवाहाटी, कालीकट और गोवा सहित पूरे भारत में 23 नए कार्यालय लॉन्च किए हैं।

भारत: महामारी के दौर में IELTS परीक्षा देने वालों में हुआ 15 फीसदी का इजाफा
Photo by Steven Lasry / Unsplash

भारत से अंग्रेजी भाषी देशों में उच्च शिक्षा या प्रवास करने वालों की रुचि पिछले कुछ समय में तेजी से बढ़ी है। इसके लिए जरूरी परीक्षा इंटरनेशनल इंग्लिश लेंग्वेज टैस्टिंग सिस्टम (IELTS) में बैठने वाले उम्मीदवारों की संख्या में पूर्व महामारी की तुलना में 15 फीसदी की इजाफा हुआ है। यह एक ऐसी परीक्षा है जिसे ​गैर अंग्रेजी भाषी देशों के नागरिकों को अंग्रेजी भाषी देश में उच्च शिक्षा और नौकरी व प्रवास के लिए पास करना जरूरी होता है। यह परीक्षा विश्वस्तर पर मान्य है।

आईईएलटीएस परीक्षा को दुनिया में लगभग 10 हजार से अधिक संगठन द्वारा आयोजित किया जाता है। परीक्षा देने वालों की संख्या में इजाफे से जुड़े आंकड़े IDP एजुकेशन लिमिटेड द्वारा साझा किए गए हैं, जिसका भारत में इस परीक्षा पर स्वामित्व है। IDP एजुकेशन के क्षेत्रीय निदेशक (दक्षिण एशिया और मॉरीशस) पीयूष कुमार ने भारतीय अखबार को बताया कि चालू वर्ष में  आईईएलटीएस संख्या में महामारी से पहले की वक्त यानी सामान्य वर्ष की तुलना में 10 से 15 फीसदी का इजाफा हुआ है।