भारतीय मूल की डॉक्टर पर लगे थे गंभीर आरोप, कोर्ट ने खारिज किया

डॉक्टर पर क्लिनिक में 9 बच्चियों के प्राइवेट पार्ट से छेड़छाड़ करने का आरोप था। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार अमेरिका में फीमेल जेनिटल म्यूटिलेशन (FGM) का यह पहला मामला है।

भारतीय मूल की डॉक्टर पर लगे थे गंभीर आरोप, कोर्ट ने खारिज किया

अमेरिका में रहने वाली भारतीय मूल की डॉ. जुमाना नागरवाला के ऊपर से फेडरल कोर्ट ने ‘फीमेल जेनिटल म्यूटिलेशन’ (FGM) के गंभीर आरोपों को खारिज कर दिया है। न्यायधीश बर्नार्ड फ्रीडमैन ने फैसला सुनाते हुए कहा कि यह अनुचित और बदले की भावना से प्रेरित मामला लगता है।

जिन लड़कियों का खतना किया गया वे इलिनॉय, मिशिगन और मिनेसोटा राज्य की थीं।

साल 2017 में डॉक्टर नागरवाला पर डेट्रायट के क्लिनिक में 9 बच्चियों के प्राइवेट पार्ट से छेड़छाड़ करने का आरोप था। हालांकि उन्होंने ऐसा कोई अपराध स्वीकार करने से इनकार किया था। उन्होंने कहा है कि वह सिर्फ धार्मिक रिवाज निभा रही थीं। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार अमेरिका में फीमेल जेनिटल म्यूटिलेशन (FGM) का यह पहला मामला है।