किसानों के भारत बंद का विशेष असर नहीं, दिल्ली के आसपास जाम रहा

कृषि कानूनों के खिलाफ लंबे समय से आंदोलन कर रहे संयुक्त किसान मोर्चा के नेतृत्व में 40 से ज्यादा किसान संगठनों ने इस बंद की घोषणा की थी। बंद को करीब एक दर्जन से ज्यादा राजनीतिक दलों ने समर्थन दिया था। लेकिन किसी भी राज्य में इस बंद को लेकर कामकाज पर प्रभावी असर की सूचना नहीं है।

किसानों के भारत बंद का विशेष असर नहीं, दिल्ली के आसपास जाम रहा
फोटोः राजीव भट्ट

भारत सरकार की ओर से लाए गए तीन कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों के सोमवार को भारत बंद का देश में कोई खास असर देखने को नहीं मिला। पूरे देश में बंद की कहीं कोई सूचना नहीं है लेकिन इसके चलते भारत की राजधानी दिल्ली और उसके आसपास ट्रैफिक खासा बाधित रहा और कुछ ट्रेन सेवाओं पर भी असर रहा। शाम तक हालात सामान्य हो चले थे। किसान नेता राकेश टिकैत ने घोषणा की है कि जब तक इन तीन कानूनों को वापस नहीं लिया जाता, उनका आंदोलन जारी रहेगा।

बंद को करीब एक दर्जन से ज्यादा राजनीतिक दलों ने समर्थन दिया था। फोटोः राजीव भट्ट

दावा किया गया कि कृषि कानूनों के खिलाफ लंबे समय से आंदोलन कर रहे संयुक्त किसान मोर्चा के नेतृत्व में 40 से ज्यादा किसान संगठनों ने इस बंद की घोषणा की थी। बंद को करीब एक दर्जन से ज्यादा राजनीतिक दलों ने समर्थन दिया था। लेकिन किसी भी राज्य में इस बंद को लेकर कामकाज पर प्रभावी असर की सूचना नहीं है। सुबह इस बंद का असर राजधानी से गुजरने वाले समीपवर्ती राज्यों के रास्तों पर रहा। पुलिस की कड़ी व्यवस्था के चलते अनहोनी टालने के लिए बरती गई सख्ती के चलते गुरुग्राम, नोएडा आदि शहरों में आने-जाने वाले ट्रैफिक को परेशानी झेलनी पड़ी।