UK ने भारत की कोरोना वैक्सीन को मंजूरी दी, लेकिन किंतु-परंतु जारी है

ब्रिटेन ने भले ही सीरम इंस्टीट्यूट की वैक्सीन 'कोविशील्ड' को मंजूरी दे दी है, लेकिन अब तक भारत को एम्बर लिस्ट में रखा है, जिसकी वजह से यात्रियों को 10 दिन क्वारंटाइन में रहना होगा।

UK ने भारत की कोरोना वैक्सीन को मंजूरी दी, लेकिन किंतु-परंतु जारी है
Photo by Erik Mclean / Unsplash

भारत सरकार की चेतावनी के बाद यूनाइटेड किंगडम (UK) ने सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (SII) की कोरोना वैक्सीन 'कोविशील्ड' (Covishield) को मान्यता तो दे दी, लेकिन फिर भी भारत को उन देशों की सूची में रखा है, जहां से यूके आने वाले यात्रियों को 10 दिनों के अनिवार्य क्वारंटाइन में रहना होगा।

यूके सरकार ने 22 सितंबर को एक इंटरनेशनल एडवाइजरी जारी की, जिसमें उसने कोविड -19 शॉट्स को सूचीबद्ध किया। इस नई सूची में सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (SII) द्वारा निर्मित ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका वैक्सीन कोविशील्ड शामिल है। Photo by Daniel Klein / Unsplash

गौरतलब है कि बीते बुधवार को यूके ने अपनी संशोधित इंटरनेशनल ट्रैवल एडवाइजरी जारी की, जिसमें इस बात की जानकारी दी गई है। इसको लेकर विवाद शुरू हो गया। यूके के इस फैसले के बाद दोनों देशों के बीच तनाव बढ़ गया और भारत ने भी जवाबी कार्रवाई की चेतावनी दी। अब यूके की लेटेस्ट एडवाइजरी के मुताबिक ब्रिटेन को 'कोविशील्ड' वैक्सीन वैक्सीन के निर्माण को लेकर कोई संदेह नहीं है, लेकिन CoWIN ऐप के माध्यम से भारत में दिए गए सर्टिफिकेट को मुद्दा बना रहा है। यूके सरकार ने 22 सितंबर को एक इंटरनेशनल एडवाइजरी जारी की,  जिसमें उसने कोविड-19 शॉट्स को सूचीबद्ध किया, जिसे 4 अक्टूबर से दुनिया के किसी भी हिस्से से ब्रिटेन आने वाले यात्रियों के लिए ' अप्रूव्ड वैक्सीन' के रूप में माना जाएगा।