518 करोड़ के लोन पर ठगी, भारतीय ब्रिटिश नागरिक दिल्ली में हुआ गिरफ्तार

गुजरात के भुज में किए गए सत्यापन और विभिन्न तिमाहियों से प्राप्त विवरण ने जालसाजी के तथ्य को स्थापित किया है। पारिख के खिलाफ लुक आउट सर्कुलर जारी किया गया था और उन्हें लंदन से आने पर दिल्ली के आईजीआई हवाई अड्डे पर हिरासत में लिया गया और बाद में गिरफ्तार कर लिया गया था।

518 करोड़ के लोन पर ठगी, भारतीय ब्रिटिश नागरिक दिल्ली में हुआ गिरफ्तार

दिल्ली पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा ने भारतीय मूल के ब्रिटिश नागरिक को फर्जीवाड़े के आरोप में गिरफ्तार किया है। पुलिस ने बताया कि ब्रिटिश नागरिक के ऊपर पंजाब नेशनल बैंक का 518 करोड़ रुपये का लोन था, जिसे वह चुका नहीं पाया और 2008 में उसकी कंपनी को एनपीए (Non Performing Asset) घोषित कर दिया गया था।

ब्रिटिश नागरिक अमृतपाल पारिख बीते दिनों भारत आया था। पारिख की गुजरात स्थित जीपीटी स्टील इंडस्ट्रीज लिमिटेड नाम से कंपनी है जिस पर उसने यह कर्ज लिया था। कंपनी को जब एनपीए किया गया तो सरकार ने उसकी संपत्ति को जब्त करने की कोशिश की। उस वक्त पारिख ने अपने साथियों के साथ मिलकर वित्त मंत्रालय का एक फर्जी दस्तावेज तैयार करवाया।