ब्रिटेन की फेरी कंपनी पर भारत से सस्ते मजदूर लेने का आरोप, प्रदर्शन भी हुआ

परिवहन सचिव ग्रांट शाप्स ने कर्मचारियों को निकाले जाने के तुरंत बाद कंपनी को 'क्षति की भरपाई' करने के लिए लिखा। उन्होंने कहा कि मैंने पीएंडओ फेरी को पत्र लिखकर 800 कर्मचारियों के बारे में चिंता व्यक्त की है, जिन्हें कल नौकरी से निकाल दिया गया था।

ब्रिटेन की फेरी कंपनी पर भारत से सस्ते मजदूर लेने का आरोप, प्रदर्शन भी हुआ

रेल, मैरीटाइम एंड ट्रांसपोर्ट यूनियन (Rail, Maritime and Transport union) के अनुसार डोवर (इंग्लैंड) में पीएंडओ फेरी क्रू (P&O Ferries crew ) द्वारा भारत के एजेंसी कर्मचारियों को £1.81 (करीब 182 रुपये) प्रति घंटे के हिसाब से काम पर रखा गया है। यूके में 23 साल और उससे अधिक उम्र के लोगों के लिए न्यूनतम मजदूरी £8.91 (करीब 898 रुपये) प्रति घंटे है।

बड़े पैमाने पर सस्ते कामगारों की भर्ती के बाद 17 मार्च को P&O के अधिकारियों सहित 800 शिपिंग स्टाफ को निकाल दिया गया।

पीएंडओ की डोवर साइट को छोड़कर जाते पूर्व कर्मचारी।