ऑकलैंड में करोड़ों का बीमा हड़पने के लिए भारतीय की हत्या, 'अपने' दोषी करार

जांच के दौरान यह सामने आया कि सरकार के नाम पर अप्रैल 2016 में करीब 3 करोड़ 76 लाख रुपये का बीमा खरीदा गया था। इस बीमा पॉलिसी में भारत में रहने वाली सरकार की तीन बेटी लाभार्थी थीं। लेकिन इस बीच सितंबर 2016 में तीनों बेटियों का नाम लाभार्थी की सूची से गायब हो गया और इसकी जगह मारिया का नाम आ गया।

ऑकलैंड में करोड़ों का बीमा हड़पने के लिए भारतीय की हत्या, 'अपने' दोषी करार

आपने भारत में कई ऐसी फिल्में देखी होंगी जिनमें महिला या पुरुष अपना बीमा करवाते हैं और नॉमिनी के तौर पर अपने पार्टनर का नाम दे देते हैं। फिर पैसों की लालच में पार्टनर इस हद तक गिर जाता है कि वो अपने साथी की हत्या कर पैसे हड़प लेता है। इस थीम पर कई फिल्में बन चुकी हैं। लेकिन यह सिर्फ फिल्मों में ही नहीं होता है। आम जिंदगी में भी आपने ऐसी कई घटनाएं देखी-सुनी होंगी। ऑकलैंड में एक महिला ने बीमा का 6 करोड़ की रकम हासिल करने के लिए भारतीय मूल के शख्स की हत्या कर दी। अदालत ने महिला और सुपारी किलर को हत्या का दोषी ठहराया है। सजा का ऐलान 9 मार्च को किया जाएगा।

ऑकलैंड के माउंटेन व्यू में पैसेज टु इंडिया रेस्टोरेंट में भारतीय मूल के 56 साल के डोमिनिक सरकार मुख्य रसोइया थे। वह भारत के नई दिल्ली, दुबई, ऑरलैंडो आदि जगहों पर बड़े-बड़े होटलों में काम कर चुके थे। 8 अक्टूबर 2018 में उनकी हत्या कर दी गई थी। उनकी लाश उनके घर में बिस्तर पर ही मिली थी। उनकी गोली मारकर हत्या की गई थी। पुलिस की जांच में इस हत्याकांड में 53 साल की मारिया मूर और 49 साल के मार्वल साल्वेंट का नाम सामने आया। साल्वेंट को मारिया ने हत्या की सुपारी दी थी। जांच के दौरान यह सामने आया कि मारिया और सरकार साथ ही रहते थे। उनके बीच संबंध थे। जब सरकार को गोली मारी गई थी तो उस वक्त मारिया को एक खरोंच भी नहीं आई थी।