तुर्किये ने विदेशी पर्यटकों के लिए सभी कोविड नियम हटाए, भारत से हैं उम्मीदें

तुर्किये के लिए इंडिगो और टर्किश एयरलाइंस ने फिर से अंतरराष्ट्रीय उड़ानें शुरू कर दी हैं। पर्यटन विभाग के अनुसार उड़ानें शुरू करने से इस साल अब तक के सबसे अधिक भारतीय पर्यटक देश में आएंगे। तुर्किये ने इस साल विदेशी यात्रियों के मामले में पूर्व-कोविड संख्या तक पहुंचने का लक्ष्य निर्धारित किया है।

तुर्किये ने विदेशी पर्यटकों के लिए सभी कोविड नियम हटाए, भारत से हैं उम्मीदें
Photo by Emre / Unsplash

तुर्किये (तुर्की) ने अपने देश में प्रवेश करने वाले यात्रियों के लिए सभी शर्तों में ढील देने का फैसला किया है। तुर्किये को उम्मीद है कि भारतीय पर्यटकों की संख्या में इस बार सबसे अधिक इजाफा होगा। अभी तक भारतीय यात्रियों को तुर्किये जाने के लिए टीकाकरण प्रमाणपत्र या आरटी-पीसीआर परीक्षण रिपोर्ट जमा करने की आवश्यकता होती थी।

Şanlıurfa Batık Şehir
तुर्किये ने वर्ष 2022 में अंतरराष्ट्रीय आगंतुकों के मामले में पूर्व-कोविड संख्या तक पहुंचने का लक्ष्य निर्धारित किया है।Photo by Enes Aktas / Unsplash

तुर्किये के लिए इंडिगो और टर्किश एयरलाइंस दोनों ने फिर से अंतरराष्ट्रीय उड़ानें शुरू कर दी हैं। ऐसे में तुर्किये पर्यटन विभाग का मानना है कि सीधी अंतरराष्ट्रीय उड़ानें फिर से शुरू करने से इस साल अब तक के सबसे अधिक भारतीय पर्यटक देश में आएंगे। तुर्किये का पर्यटन पिछले साल लगभग 25 बिलियन अमेरिकी डॉलर यानी 1 लाख 95 हजार करोड़ रुपये रहा, जो महामारी के बाद 103 फीसदी बढ़ा। वहीं विभाग को उम्मीद है कि 2022 में यह एक नया रिकॉर्ड स्थापित करेगा।

तुर्किये के पर्यटन बोर्ड ने कहा कि देश पिछले साल दुनिया भर से फ्री इंडिपेंडेंट ट्रैवलर्स (FIT) और मीटिंग, इंसेंटिव ट्रैवल, कॉन्फ्रेंस एंड इवेंट्स (MICE) पर्यटकों के लिए शीर्ष स्थलों में से एक के रूप में उभरा। साल 2021 में तुर्किये ने 3 करोड़ से अधिक अंतरराष्ट्रीय आगंतुकों का स्वागत किया। इनमें से 50,000 भारतीय पर्यटक थे। तुर्किये ने वर्ष 2022 में अंतरराष्ट्रीय आगंतुकों के मामले में पूर्व-कोविड संख्या तक पहुंचने का लक्ष्य निर्धारित किया है।

बयान के अनुसार देश ने 2019 की पूर्व-महामारी अवधि में 52 मिलियन यानी 52 करोड़ यात्रियों का स्वागत किया था। बढ़ती गति के साथ तुर्किये 2022 के अंत तक पर्यटकों की संख्या 2019 के स्तर पर लौटने की उम्मीद कर रहा है। क्योंकि अंतरराष्ट्रीय यात्रा की मांग फिर से बढ़ रही है और लोग यात्रा करने और नए स्थलों का अनुभव करने के इच्छुक हैं।