टोक्यो पैरालंपिक: भारत के खाते में दो स्वर्ण सहित 7 पदक, खेल अभी जारी है

भारत ने निशानेबाजी और भाला फेंक में स्वर्ण पदक हासिल किया। इसके साथ ही भाला फेंक में रजत एवं कांस्य पदक हासिल किया।

टोक्यो पैरालंपिक:  भारत के खाते में दो स्वर्ण सहित 7 पदक, खेल अभी जारी है

टोक्यो पैरालंपिक खेलों में भारत के लिए सोमवार का दिन काफी शुभ रहा। दो स्वर्ण पदक, एक रजत पदक और एक कांस्य पदक के साथ भारत ने आज चार पदक बटोरे। रविवार को भारत ने तीन पदक हासिल किए थे, लेकिन डिस्कस थ्रो में विनोद कुमार  ने जो कांस्य पदक हासिल किया था अब वह उन्हें नहीं मिलेगा। टोक्यो पैरालंपिक के तकनीकी प्रतिनिधि ने यह तय किया है कि विनोद कुमार डिस्कस थ्रो (F52 क्लास) के लिए योग्य श्रेणी में नहीं आते। इस तरह भारत की झोली में अब 7 पदक हो गए हैं।

अवनि ने 249.6 के विश्व रिकॉर्ड स्कोर के साथ महिलाओं की 10 मीटर एयर राइफल एसएच1 में देश के लिए पहला स्वर्ण पदक जीता।

दिन की शुरुआत अवनि लेखरा के गोल्ड मेडल से हुई। अवनि ने 249.6 के विश्व रिकॉर्ड स्कोर के साथ महिलाओं की 10 मीटर एयर राइफल एसएच1 में देश के लिए पहला स्वर्ण पदक जीता। योगेश काथुनिया ने शानदार प्रदर्शन करते हुए पुरुष डिस्कस थ्रो एफ56 वर्ग में रजत पदक जीता। देवेंद्र झांझरिया और सुंदर सिंह गुर्जर ने भाला फेंक एफ-46 वर्ग में क्रमश: रजत और कांस्य पदक अपने नाम किया।