तस्वीरों में देखिए अतंरिक्ष में जाने वाली सिरीशा बांदला की जिंदगी

आंध्र प्रदेश के गुंटूर से ताल्लुक रखने वाली 34 वर्षीय एस्ट्रोनॉटिकल इंजीनियर सिरीशा बांदला अंतरिक्ष में जाने वाली भारतीय मूल की तीसरी महिला बन गई हैं।

तस्वीरों में देखिए अतंरिक्ष में जाने वाली सिरीशा बांदला की जिंदगी
सिरीशा बांदला (बाएं) अपने माता-पिता और बहन के साथ। (साभार: Instagram/Sirisha Bandla)

वर्जिन गेलेक्टिक में गवर्नमेंट अफेयर्स और रिसर्च ऑपरेशंस की वाइस प्रेसिडेंट सिरीशा बांदला अंतरिक्ष में जाने वाली भारतीय मूल की तीसरी महिला बन गई हैं। उनसे पहले भारतीय मूल की नासा की अंतरिक्ष यात्री कल्पना चावला और सुनीता विलियम्स अंतरिक्ष में जाकर इतिहास रच चुकी हैं।

आंध्र प्रदेश के गुंटूर से ताल्लुक रखने वाली 34 वर्षीय एस्ट्रोनॉटिकल इंजीनियर सिरीशा की जिंदगी की कुछ झलकियां:

सिरीशा अपने पिता बी मुरलीधर के साथ। (साभार: Instagram/Sirisha Bandla)

सिरीशा का जन्म चिराला में उनकी नानी के घर हुआ था। उसके बाद उनका परिवार तेनाली में शिफ्ट हो गया। पांच साल की उम्र तक वह तेनाली में अपनी दादी के साथ रहीं। इसके बाद वह अपने माता-पिता के साथ ह्यूस्टन चली गईं।