कनाडा के इस शहर ने इसलिए 14 अप्रैल को घोषित किया 'आंबेडकर समानता दिवस'

घोषणपत्र में कहा गया है कि न्यायपूर्ण, सामाजिक और आर्थिक व्यवस्था लाने के लिए डॉ. आंबेडकर के प्रयासों और नजरिए का जश्न केवल भारत में नहीं बल्कि पूरी दुनिया में मनाया जाना चाहिए। कनाडा के ब्रिटिश कोलंबिया प्रांत में अप्रैल को 'दलित इतिहास माह' के रूप में मनाने का फैसला लिया गया था।

कनाडा के इस शहर ने इसलिए 14 अप्रैल को घोषित किया 'आंबेडकर समानता दिवस'

कनाडा के बर्नबी शहर ने 14 अप्रैल को 'डॉ. आंबेडकर समानता दिवस' घोषित किया है। शहर के मेयर माइक हर्ली ने सोमवार को इससे संबंधित आधिकारिक दस्तावेजों पर हस्ताक्षर करते हुए इसका एलान किया था। बर्नबी काउंसिल बैठक में पार्षद सैव धालीवाल ने यह घोषणा पढ़ी थी।

बर्नबी काउंसिल बैठक में पार्षद सैव धालीवाल ने आंबेडकर समानता दिवस की घोषणा पढ़ी।

इस घोषणा पत्र में कहा गया कि वैश्विक स्तर पर असमानता और अन्याय के बारे में चिंता का अनुभव किया जा रहा है। असमानता को मिटाने के प्रयासों को समर्थन और मजबूत करने की आवश्यकता है। इसमें आगे कहा गया कि डॉ. भीमराव आंबेडकर का जन्म एक दलित परिवार में हुआ था।