टेक्सास गवर्नर ने अशोक मागो को विश्वविद्यालय के शीर्ष पद पर फिर नवाजा

मागो को भारत की ओर से प्रवासी भारतीय सम्मान और पद्मश्री सम्मान से नवाजा जा चुका है। उन्होंने सीनेट इंडिया कॉकस की स्थापना में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी, जो संयुक्त राज्य सीनेट में एकमात्र विशिष्ट कॉकस है। उन्होंने सिटी ऑफ डलास प्लान एंड जोनिंग कमीशन के कमिश्नर के रूप में भी काम किया है।

टेक्सास गवर्नर ने अशोक मागो को विश्वविद्यालय के शीर्ष पद पर फिर नवाजा

अमेरिका के राज्य टेक्सास के गवर्नर ग्रेग एबॉट ने प्रख्यात भारतीय-अमेरिकी अशोक एके मागो को यूनिवर्सिटी ऑफ नॉर्थ टेक्सास सिस्टम बोर्ड ऑफ रीजेंट्स में नियुक्त किया है। मागो के लिए यह लगातार दूसरा कार्यकाल है। अशोक एके मागो ग्रेटर डलास इंडो-अमेरिकन चैंबर के संस्थापक अध्यक्ष भी हैं, जिसे अब यूएस-इंडिया चैंबर के रूप में जाना जाता है।

मागो को भारत की ओर से साल 2010 में प्रवासी भारतीय सम्मान और 2014 में पद्मश्री सम्मान से नवाजा जा चुका है। 

मागो को भारत की ओर से साल 2010 में प्रवासी भारतीय सम्मान और 2014 में पद्मश्री सम्मान से नवाजा जा चुका है। उन्होंने सीनेट इंडिया कॉकस की स्थापना में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी जो संयुक्त राज्य सीनेट में एकमात्र विशिष्ट कॉकस है।

नॉर्थ टेक्सास के प्राइमरी केयर क्लिनिक, नॉर्थ टेक्सास एडवाइजरी बोर्ड की साल्वेशन आर्मी और यूटी साउथवेस्टर्न सीमन्स कैंसर सेंटर कम्युनिटी एडवाइजरी बोर्ड के बोर्ड सदस्य अशोक एके मागो ने पहले डलास फोर्ट वर्थ इंटरनेशनल एयरपोर्ट बोर्ड, डलास क्षेत्रीय चैंबर बोर्ड और कार्यकारी बोर्ड के निदेशक और सदस्य के रूप में काम किया है।

भारतीय-अमेरिकी ने पहले सिटी ऑफ डलास प्लान एंड जोनिंग कमीशन के कमिश्नर के रूप में भी काम किया है और वह डिस्ट्रिक्ट 2X1 लायंस क्लब इंटरनेशनल के पूर्व गवर्नर भी रह चुके हैं। जानकारी के लिए बता दें कि अशोक एके मागो डलास में लीडरशिप डलास और टेक्सास विश्वविद्यालय के एक प्रतिष्ठित पूर्व छात्र हैं। मागो ने भारत की राजधानी दिल्ली के दिल्ली विश्वविद्यालय से स्नातक की डिग्री ली थी जिसके बाद उन्होंने डलास में टेक्सास विश्वविद्यालय से बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन में मास्टर डिग्री प्राप्त की।