Tagged

समीक्षा

A collection of 18 posts

भारत-यूके साप्ताहिक बुलेटिन: 26-31 मार्च
समीक्षा

भारत-यूके साप्ताहिक बुलेटिन: 26-31 मार्च

इस सप्ताह के दौरान, ब्रिटेन के विदेश मंत्री ने भारत की यात्रा की, जबकि भारतीयों ने किंगडम में सम्मान प्राप्त किया। 1780 में ईस्ट इंडिया कंपनी पर मैसूर शासक हैदर अली और उनके बेटे टीपू सुल्तान की ऐतिहासिक जीत की एक पेंटिंग बुधवार को लंदन में सोथबी की नीलामी में लगभग 6.28 करोड़ रुपये में बेचा गया।

भारत-यूके बुलेटिन: 18-26 मार्च
समीक्षा

भारत-यूके बुलेटिन: 18-26 मार्च

भारत और यूके ने एफटीए वार्ता के पहले दौर का समापन किया, वॉकहार्ट और सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया ने 150 मिलियन जैब्स बनाने के लिए हाथ मिलाया। मध्य लंदन के एक छात्र आवास में एक भारतीय छात्रा सबिता थानवानी की हत्या के लिए 22 वर्षीय ट्यूनीशियाई नागरिक माहेर मारौफे को हिरासत में लिया गया।

लंदन में 'दार्जीलिंग एक्स्प्रेस' चलाने वाली आसमा ने लिखी यह बेहद खास किताब
समाचार

लंदन में 'दार्जीलिंग एक्स्प्रेस' चलाने वाली आसमा ने लिखी यह बेहद खास किताब

आसमा खान लंदन के सर्वाधिक लोकप्रिय भारतीय रेस्तरां में शामिल 'दार्जीलिंग एक्सप्रेस' चलाती हैं। उनकी कुकिंग टीम में सभी महिलाएं हैं। उनका कहना है कि लॉकडाउन के दौरान जब मुझे अपना रेस्तरां बंद करना पड़ा तब मुझे यह किताब लिखने का विचार आया।

ऐसा क्या लिख दिया सांसद रो खन्ना ने, उनकी किताब की क्यों हो रही इतनी चर्चा
समीक्षा

ऐसा क्या लिख दिया सांसद रो खन्ना ने, उनकी किताब की क्यों हो रही इतनी चर्चा

कैलिफोर्निया से तीन बार सांसद रहे खन्ना के अनुसार उन्होंने यह किताब इस परिकल्पना के आधार पर लिखी है कि किस तरह डिजिटल अर्थव्यवस्था लोगों को एक जगह से दूसरी जगह पर भेजने के बजाय वहीं असवर उत्पन्न कर सकती है जहां वह रहते हैं।

खास विषय पर बनी भारत की डॉक्यूमेंट्री Writing With Fire ऑस्कर में नामांकित
समीक्षा

खास विषय पर बनी भारत की डॉक्यूमेंट्री Writing With Fire ऑस्कर में नामांकित

इस फिल्म का निर्देशन, निर्माण और एडिटिंग करने वाले पति-पत्नी सुष्मित और रिंटू पिछले करीब 10 साल से डॉक्यूमेंट्री फिल्मों का निर्माण कर रहे हैं। ऑस्कर अवार्ड के लिए राइटिंग विद फायर का मुकाबला 'एसेंशन', एटिका, फ्ली और समर ऑफ सोल से होगा। ऑस्कर अवार्ड मार्च 27 को दिए जाएंगे।

'कई चुनौतियां लेकिन अमेरिकी इतिहास की सबसे मजबूत महिला बनेंगी हैरिस'
समीक्षा

'कई चुनौतियां लेकिन अमेरिकी इतिहास की सबसे मजबूत महिला बनेंगी हैरिस'

चिदानंद की किताब 'कमला हैरिस: फेनोमेनल वूमेन' (Kamala Harris: Phenominal Woman) में हैरिस के जीवन की घटनाओं का वर्णन किया गया है। राजघट्टा के अनुसार चूंकि वह पहली महिला और अश्वेत उप राष्ट्रपति हैं, ऐसे में उन्हें अमेरिकी इतिहास में किसी भी अन्य उप राष्ट्रपति से अधिक चुनौतियों का सामना करना पड़ा है।

भारत वालो! आओ दिखाएं तुम्हें अमेरिका के दिल्ली, बॉम्बे, मद्रास, कलकत्ता...
समीक्षा

भारत वालो! आओ दिखाएं तुम्हें अमेरिका के दिल्ली, बॉम्बे, मद्रास, कलकत्ता...

भारत के इन प्रमुख शहरों के बारे में हर कोई जानता है, लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी कि इन नामों के शहर अमेरिका में भी हैं। चलिए आज उनके बारे में जान लेते हैं। पढेंगे तो हैरान होंगे लेकिन आनंद की अनुभूति भी मिलेगी।

अयोध्या में रामलला के दर्शन से पहले 'हनुमान जी' की अनुमति क्यों है आवश्यक!
समीक्षा

अयोध्या में रामलला के दर्शन से पहले 'हनुमान जी' की अनुमति क्यों है आवश्यक!

अयोध्या में श्रीराम मंदिर और हनुमानगढ़ी का गहरा नाता है। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार इन दोनों स्थलों के दर्शन करने पर ही अयोध्या की यात्रा पूर्ण मानी जाती है। हनुमानगढ़ी भारत के उन चुनिंदा मंदिरों में शुमार है, जहां हनुमान जी बाल रूप में विराजमान हैं।

भारतीय बैले डांसर के सुख-दुख को उकेरती 'कॉल मी डांसर',ट्रेलर लॉन्च हुआ
समीक्षा

भारतीय बैले डांसर के सुख-दुख को उकेरती 'कॉल मी डांसर',ट्रेलर लॉन्च हुआ

कॉल मी डांसर फिल्म सभी बाधाओं के खिलाफ कलात्मक दावे के बारे में है। यह आपके सपनों का पीछा करने के बारे में है, तब भी जब वास्तविकता अत्यधिक कठोर लगती है। फिल्म बताती है कि कैसे जुनून, भाग्य, शांति और रचनात्मकता के कई पहलू चमत्कार बनाने के लिए मिल सकते हैं।

चोरों और लुटेरों में दहशत पैदा करती थी खिलजी की बनाई यह 'चोर मीनार'
समीक्षा

चोरों और लुटेरों में दहशत पैदा करती थी खिलजी की बनाई यह 'चोर मीनार'

यह इमारत अलाउद्दीन खिलजी के शासनकाल में सिर्फ इसलिए बनाई गई थी कि कानून को हाथ में लेने वालों को सुधारा जा सके।

अमेरिका में रह रहे भारतीय परिवार के दुख-सुख से लबरेज फिल्म है 'स्पिन'
समीक्षा

अमेरिका में रह रहे भारतीय परिवार के दुख-सुख से लबरेज फिल्म है 'स्पिन'

फिल्म में बॉलीवुड के मशहूर एक्टर अभय देओल भी हैं, जो रिया के पिता की भूमिका निभा रहे हैं। फिल्म में अन्य भारतीय कलाकार भी लिए गए हैं।

भारतीय छात्रा काव्या जैन ने ब्रिटेन में दृष्टिबाधित लोगों के लिए बनाया अनोखा 'टेप'
समीक्षा

भारतीय छात्रा काव्या जैन ने ब्रिटेन में दृष्टिबाधित लोगों के लिए बनाया अनोखा 'टेप'

अपने करीबी लोगों के सामने हर दिन आने वाली परेशानियों को देखते हुए उन्होंने यह रिसर्च करने का फैसला किया। फेसबुक ग्रुप के माध्यम से कई लोगों से बात करने के बाद यह प्रोजेक्ट शुरू किया।

इस प्रवासी कामकाजी की कविताओं  में है प्रेम, आनंद, जुनून, दुख, प्रकृति का चित्रण
समीक्षा

इस प्रवासी कामकाजी की कविताओं में है प्रेम, आनंद, जुनून, दुख, प्रकृति का चित्रण

लिजू का कहना है कि भविष्य में वह एक उपन्यास लिखने का प्लान बना रही हैं। वह कुवैत में आईटी मैनेजर के रूप में काम कर रही हैं और वक्त मिलने पर लेखन का शौक पूरा करती हैं।

दुनिया में सबसे अनोखा होगा राम मंदिर, 1000 साल तक बनी रहेगी भव्यता
विचार

दुनिया में सबसे अनोखा होगा राम मंदिर, 1000 साल तक बनी रहेगी भव्यता

अयोध्या में अब राम मंदिर का निर्माण काफी तेजी से चल रहा है। ट्रस्ट के मुताबिक राम मंदिर साल 2023 तक सभी के लिए खोल दिया जाएगा। इसके अलावा पूरे मंदिर परिसर का निर्माण 2025 तक पूरा होने की उम्मीद है।

अमेरिका, कश्मीर से लेकर युवाओं तक...छह मुद्दों को कुरेदती है जुत्शी की लेखनी
समीक्षा

अमेरिका, कश्मीर से लेकर युवाओं तक...छह मुद्दों को कुरेदती है जुत्शी की लेखनी

इंडो अमेरिकन कम्युनिटी फाउंडेशन के संस्थापक जीवन जुत्शी की नई किताब 'अर्थ आन ट्रायल-फाइटिंग द विजिबल और इनविजिबल एनिमी' में कोविड जैसे इनविजिबल एनिमी से लेकर उन विजिवल दुश्मन का जिक्र है, जिससे आम लोग इन दिनों लड़ रहे हैं।

पश्चिम के लिए दक्षिण-एशियाई लोगों का कठिन सफर
समीक्षा

पश्चिम के लिए दक्षिण-एशियाई लोगों का कठिन सफर

बंगाली हार्लेम, एमआईटी विद्वान विवेक बाल्ड की एक किताब है और इस पर डाक्यूमेंट्री भी आने वाली है जो उन दक्षिण एशियाई लोगों की कहानियों को बताती है जो 1880 से 1950 के दशक के बीच अमेरिका गए थे।

भारतीय अमेरिकियों के लिए कुछ भी असंभव नहीं: तरुण बासु
समीक्षा

भारतीय अमेरिकियों के लिए कुछ भी असंभव नहीं: तरुण बासु

40 से भी अधिक सालों से मीडिया के दिग्गज रहे तरुण बासु इन दिनों अपनी नई किताब को लेकर चर्चा में हैं। बासु ने 'कमला हैरिस एंड द राइज़ ऑफ़ इंडियन अमेरिकन्स' नामक किताब लिखी है, जिनमें भारतीय-अमेरिकियों के उदय पर विस्तार से चर्चा की गई है।

आधुनिक उर्दू शायरों की रचनाओं से रू-ब-रू होने का दुर्लभ मौका देती है 'हमसफ़रों के दरमियां'
समीक्षा

आधुनिक उर्दू शायरों की रचनाओं से रू-ब-रू होने का दुर्लभ मौका देती है 'हमसफ़रों के दरमियां'

हमसफ़रों के दरमियां किताब में उर्दू की आधुनिक कविता के संदर्भ में भारतीय उपमहाद्वीप की सामाजिक, सांस्कृतिक राजनीतिक परंपरा के हवाले से प्रगतिवाद, आधुनिकता और उत्तर आधुनिकता पर विचार किया गया है और इस पर जोर दिया गया है कि हमारा जीवन हमारे समय के पश्चिमी जीवन और सोच समझ की कार्बन कॉपी नहीं है।