सिडनी के कैफे में भारतीय कर्मचारी सुमन पर कॉफी फैंकी, मामला कुछ यूं है...

सुमन ने मीडिया को बताया कि मेरे उपर डाली गई कॉफी मेरे हाथ, मेरी जैकेट और दुकान में हर जगह फैल गई। इस हादसे में सुमन का चेहरा और हाथ जल गए थे। असल में यह मामला कॉफी की पेमेंट को लेकर था, जहां एक व्यक्ति दूसरी महिला की कॉफी की भी पेमेंट देना चाहता था। इसी से विवाद बढ़ा।

सिडनी के कैफे में भारतीय कर्मचारी सुमन पर कॉफी फैंकी, मामला कुछ यूं है...

सिडनी के रोजहिल में सोल बाउल कैफे है जहां भारतीय मूल के एक कर्मचारी के मूंह पर गर्म कॉफी फेंकने का मामला सामने आया है। सुमन नाम के इस कर्मचारी पर एक ग्राहक ने जरा सी असह​मति के बाद उसके चेहरे पर गर्म कॉफी फेंक दी। यह मामला कैफे में लगे सीसीटीवी में कैद हो गया है।

सीसीटीवी फुटेज से पता चलता है कि ग्राहक ने पहले सुमन को दो टेकअवे कॉफी ऑर्डर की। सुमन ने ग्राहक की बरिस्ता कॉफी को बनाना शुरू कर दिया। इस बीच एक महिला ग्राहक वहां पहुंची और उस महिला ने भी सुमन को कॉफी का आर्डर दिया। युवती के आर्डर देने के बाद आरोपी ग्राहक ने महिला को प्रभावित करने के लिए कॉफी का भुगतान करना चाहा जिसे महिला ने विनम्रता के साथ मना कर दिया।

ऐसे में जब आरोपी ग्राहक ने सुमन को महिला ग्राहक की कॉफी के पैसे दिए तो सुमन ने भी महिला की इच्छा का सम्मान करते हुए ग्राहक से पैसे लेने से इनकार कर दिया। इससे वह ग्राहक आक्रामक और अपमानजनक महसूस करने लगा और उसने क्रोध में आर्डर की गई दोनों कॉफी को सुमन पर फेंक दिया।

सुमन ने मीडिया को बताया कि मेरे उपर डाली गई कॉफी मेरे हाथ, मेरी जैकेट और दुकान में हर जगह फैल गई। वहीं कैफे की मा​लिक लिली सेमन ने कैफे के सोशल मीडिया पर सीसीटीवी फुटेज पोस्ट करते हुए लिखा कि हम इसे बर्दाश्त नहीं करेंगे। हम यह पता लगाना चाहते हैं कि वह कौन है और हम इसे आगे तक ले जाना चाहते हैं। हमारा स्टाफ सदस्य युवती की इच्छाओं का सम्मान कर रहा था क्योंकि उसे परेशान किया जा रहा था और गाली भी दी गई थी।

बता दें कि इस हादसे में सुमन का चेहरा और हाथ जल गए थे। पुलिस अब हमले की जांच कर रही है। पुलिस ने बयान में कहा है कि पूछताछ में उस व्यक्ति की पहचान करना और उसका पता लगाना जारी है। आरोपी की उम्र 30 वर्ष है और उसके बाल छोटे काले हैं और उसने दाढ़ी रखी हुई है।