पिता के सम्मान में लड़कियों के लिए विशेष स्कॉलरशिप चलाने वाली कौन हैं शोभना

शोभना के पिता ने पितृसत्तात्मक परिवार में पले-बढ़े होने के बावजूद शिक्षा और करियर में महिलाओं के लिए समान अवसरों के अधिकारों की वकालत की थी। शोभना कहती हैं कि मेरे पिता के मूल्य ही इस स्कॉलरशिप के आधार हैं।

पिता के सम्मान में लड़कियों के लिए विशेष स्कॉलरशिप चलाने वाली कौन हैं शोभना

संयुक्त राज्य अमेरिका (USA) में गूगल टीवी की सीनियर डायरेक्टर शोभना राधाकृष्णन अपने पिता एसएस राधाकृष्णन के सम्मान में लड़कियों के लिए स्टेम (STEM) स्कॉलरशिप चला रही हैं। शोभना कहती हैं कि मैं जो आज हूं उसके लिए मेरे पिता ने अनगिनत बलिदान दिए। उनके बिना मैं अमेरिका नहीं आ पाती और टेक इंडस्ट्री में करियर भी नहीं बना पाती।

भारतीय मूल की शोभना अब अपने पिता के बलिदानों के मूल्य अपने बच्चों, अंतरराष्ट्रीय छात्रों और स्टेम में महिलाओं तक पहुंचा रही हैं। अपने पिता को श्रद्धांजलि के तौर पर शोभना राधाकृष्णन ने साल 2020 में यूनिवर्सिटी ऑफ इलिनोइस अर्बाना-कैंपेन में इंजीनियरिंग और कंप्यूटर साइंस के छात्रों के लिए एक स्कॉलरशिप की शुरुआत की थी।

एसएस राधाकृष्णन स्कॉलरशिप के तहत अंतरराष्ट्रीय छात्रों की वित्तीय बाधाओं से निपटने में मदद उपलब्ध कराई जाती है। शोभना के पिता ने पितृसत्तात्मक परिवार में पले-बढ़े होने के बावजूद शिक्षा और करियर में महिलाओं के लिए समान अवसरों के अधिकारों की वकालत की थी। शोभना कहती हैं कि मेरे पिता के मूल्य ही इस स्कॉलरशिप के आधार हैं।

गूगल की एंड्रॉयड टीवी में इंजीनियरिंग की वरिष्ठ डायरेक्टर होने के नाते शोभना के कंधों पर कई जिम्मेदारियां हैं। इसी दौरान वह अपना संगठन चलाने के साथ विभिन्न सामुदायिक सेवा के कार्यों में भी उसी समर्पण भावना के साथ हिस्सा लेती हैं। वह एक गैर लाभकारी संगठन की बोर्ड सदस्य हैं जो स्थानीय हाईस्कूलों के माहौल को लेकर काम करता है।

लगभग 20 साल से शोभना स्टेम में विभिन्न पहलों और प्रयासों के जरिए जातीय व लैंगिक विविधता की वकालत करती आ रही हैं। अपने परिवार की पहली महिला इंजीनियर शोभना को अपनी पढ़ाई और करियर से संबंधित फैसलों को लेकर पिता से पूरा सहयोग मिला था। अपने पिता की विरासत को जिंदा रखने के लिए वह गरीब लड़कियों की मदद में जुटी हुई हैं।