अमेरिका में बढ़ेगा भारतीय टेक्सटाइल उद्योग, पहले ट्रेड फेयर का हुआ आयोजन

ट्रेड फेयर का उद्घाटन जॉर्जिया के गवर्नर ऑफिस के फील्ड प्रतिनिधि सेबैस्टियन बैरन ने किया था। उन्होंने राज्य में इस तरह की प्रदर्शनियों का आयोजन करने के लिए एसजीसीसीआई को सहयोग देने की बात कही। उल्लेखनीय है कि अमेरिका हर साल लगभग 112 अरब डॉलर कीमत के परिधानों, कपड़ों और होम टेक्सटाइल का आयात करता है।

अमेरिका में बढ़ेगा भारतीय टेक्सटाइल उद्योग, पहले ट्रेड फेयर का हुआ आयोजन

द साउथर्न गुजरात चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री (SGCCI) ने अमेरिका में अपना पहला ग्लोबल टेक्सटाइल ट्रेड फेयर (GTTF) आयोजित किया है। यह महत्वपूर्ण आयोजन भारत के गुजरात राज्य के सूरत में स्थित दुनिया के दूसरे सबसे बड़े मानव निर्मित फाइबर (MMF) उत्पादन केंद्र को प्रोत्साहन देने के लिए किया गया था।

उल्लेखनीय है कि सूरत भारत का सबसे बड़ा एमएमएफ टेक्सटाइल हब है। देश के पूरे एमएमएफ टेक्सटाइल प्रोडक्शन में इस शहर की भागीदारी लगभग 60 फीसदी है। वस्तुओं, परिधानों और अन्य घरेलू साज-सज्जा की वस्तुओं के निर्माण में चीन के बाद भारत दूसरे स्थान पर है। तीन दिन चली इस जीटीटीएफ एग्जिबिशन 2022 की शुरुआत नौ जून से हुई थी। इस संबंध में जारी एक प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार जॉर्जिया के डुलुथ में गैस साउथ कन्वेंशन सेंटर में हुए इस कार्यक्रम को भारत के टेक्सटाइल मंत्रालय की ओर से भी समर्थन मिला था। इसका समापन 11 जून को हुआ था।

White Cotton Threads Spools
अमेरिका हर साल लगभग 112 अरब डॉलर कीमत के परिधानों, कपड़ों और होम टेक्सटाइल का आयात करता है। Photo by 🇸🇮 Janko Ferlič / Unsplash

ट्रेड फेयर का उद्घाटन जॉर्जिया के गवर्नर ऑफिस के फील्ड प्रतिनिधि सेबैस्टियन बैरन ने किया था। उन्होंने राज्य में इस तरह की प्रदर्शनियों का आयोजन करने के लिए एसजीसीसीआई को सहयोग देने की बात कही। पहले दिन सैकड़ों व्यापारियों ने इसमें शिरकत की और सूरत के 50 से अधिक उत्पादकों को ऑर्डर दिए।

सांसद डैनी के डेविस की मल्टी एथनिक एडवाइजरी टास्क फोर्स के फाउंडर चेयर डॉ. विजय जी प्रभाकर ने एसजीसीसीआई के अध्यक्ष आशीष डी गुजराती को कांग्रेस की ओर से प्रशस्ति पत्र दिया। उन्हें यह सम्मान भारतीय परिधानों और होम टेक्सटाइल एक्सपो को अमेरिका लाने की ऐतिहासिक पहल के लिए दिया गया।

उल्लेखनीय है कि अमेरिका हर साल लगभग 112 अरब डॉलर कीमत के परिधानों, कपड़ों और होम टेक्सटाइल का आयात करता है। इसमें से 58 फीसदी एमएमएफ टेक्सटाइल है। इस समय अमेरिका परिधानों और होम टेक्सटाइल की श्रेणी में सबसे ज्यादा आयात चीन से करता है। भारतीय उद्योग की पहुंच अभी यहां सीमित है।