UN की न्याय व समानता की पैनल चर्चा में हिस्सा लेंगी भारत की पुपुल बिष्ट

पुपुल प्रतिष्ठित नेक्स्ट जेनरेशन फोरसाइट प्रैक्टिशनर्स अवार्ड की विजेता थी, उन्होंने 2018 में डिकोलोनाइजिंग फ्यूचर्स इनिशिएटिव की स्थापना की, जिसका उद्देश्य हाशिए के समुदायों को उनके पसंदीदा भविष्य की कल्पना में शामिल करना था।

UN की न्याय व समानता की पैनल चर्चा में हिस्सा लेंगी भारत की पुपुल बिष्ट

भारत की 29 वर्षीय पुपुल बिष्ट, संयुक्त राष्ट्र की 'प्रभावी और समावेशी संस्थान: न्याय, समानता और विश्वास के लिए' (‘Effective and inclusive Institutions: For Justice, equality and trust’) नामक एक पैनल चर्चा में भाग लेंगी। संयुक्त राष्ट्र महासचिव द्वारा बुलाई गई कार्रवाई के दशक का दूसरा एसडीजी मोमेंट (SDG Moment ) 20 सितंबर को वर्चुअली आयोजित किया जाएगा।

पुपुल बिष्ट ने कहा कि इस महत्वपूर्ण चर्चा में योगदान देना मेरे लिए सम्मान की बात है। 

इन दिनों दुनिया कोविड -19 महामारी और अन्य प्रमुख चुनौतियों से जूझ रही है, इन हालात में एसडीजी मोमेंट एजेंडा 2030 की निरंतर प्रासंगिकता के साथ-साथ वर्तमान और भविष्य की चुनौतियों के जवाब में समान, समावेशी और त्वरित प्रयासों की आवश्यकता को सुदृढ़ करने का प्रयास करेगा। यह आयोजन 21 सितंबर से शुरू होने वाली 76वीं संयुक्त राष्ट्र महासभा (यूएनजीए) 2021 का हिस्सा है।