सिंगापुर में भारतीय मूल के व्यक्ति को मुक्का मारने पर मिली सात हफ्ते की सजा

आरोपी सेगरन ने मास्क सही से नहीं लगाया हुआ था। उससे जब कहा गया कि मास्क सही से लगाए तो उसने वॉलिंटियर के साथ मारपीट करनी शुरू कर दी और अपशब्द भी कह डाले। बाद में उसने हमला करने, उत्पीड़न करने और कोविड 19 के नियम को तोड़ने का अपराध कबूल किया है।

सिंगापुर में भारतीय मूल के व्यक्ति को मुक्का मारने पर मिली सात हफ्ते की सजा
Photo by engin akyurt / Unsplash

सिंगापुर में भारतीय मूल के एक नागरिक को स्थानीय भोजन केंद्र में एक वॉलिंटियर के साथ मारपीट करने के जुर्म में सात हफ्ते तक जेल में रहने की सजा सुनाई गई है। भारतीय मूल के इस नागरिक ने मास्क सही से लगाने के लिए कहने पर वॉलिंटियर के साथ मारपीट की थी और अपशब्द भी कहे थे।

सेगरन पर दिसंबर 2020 में भी मारपीट करने का आरोप है।

मिली जानकारी के मुताबिक भारतीय मूल के इस व्यक्ति का नाम के चंद्र सेगरन है और उम्र 58 वर्ष है। सेगरन ने एसजी क्लीन एंबेसडर ब्रैंडन ओन्ग को नस्लीय शब्द कहे और मुक्का मार दिया था। ओन्ग ने सेगरन को मास्क सही से पहनने के लिए कहा था लेकिन सेगरन ने ओन्ग की बात को अनसुना कर दिया। ओन्ग की यह ड्यूटी थी कि वह यह सुनिश्चित करे कि लोग सार्वजनिक स्थानों पर सही तरीके से मास्क लगाएं।