सिडनी में नीलाम होगा मुगलकाल का दुर्लभ 'चांदी का सिक्का', जानें खासियत

मुगल शासक जहांगीर ने अपने शासनकाल (1605 - 1627) के दौरान जारी किए गए सोने और चांदी के सिक्कों का राशि संग्रह बनाया था। इन पर जो चित्र छपे हैं, वह इस्लाम में वर्जित थे। इसी कारण उनके पुत्र शाहजहां ने विरोध होने पर इस संग्रह के अधिकतर सिक्कों को पिघला दिया था। अब जो सिक्के बचे हैं, वे दुर्लभ हैं।

सिडनी में नीलाम होगा मुगलकाल का दुर्लभ 'चांदी का सिक्का', जानें खासियत

मुगल बादशाह जहांगीर के दुर्लभ संग्रह का एक 'चांदी का सिक्का' जल्द ही ऑस्ट्रेलियाई शहर सिडनी में नीलाम किया जाएगा। इस सिक्के को यह नोबल न्यूमिस्मैटिक्स (Noble Numismatics) कंपनी नीलाम करेगी, जो ऑस्ट्रेलिया की सबसे मशहूर मूल्यांकक और नीलामीकर्ता है। यह कंपनी सिक्कों, पदकों, टिकटों, बैंकनोटों और इससे संबंधित सामग्री का सौदा करती है। इस सिक्के के एक तरफ मिथुन राशि का चिह्न बना हुआ है और दूसरी तरफ फ़ारसी शिलालेख है।

यह अनोखा सिक्का अहमदाबाद में शाही टकसाल में बनाया गया था। इस सिक्के को नीलाम करने की शुरुआती कीमत 5000 डॉलर (करीब 3.70 लाख रुपये) रखी गई है। देखना दिलचस्प होगा कि नीलामी के दौरान इस सिक्के की कितनी कीमत तक की बोली लगाई जाएगी।