कमजोरों की आवाज उठाने वाली रूपा अमेरिका में जज बनीं, सीनेट की मिली मंजूरी

रूपा ने अपने कैरियर की शुरुआत डीसी सुपीरियर कोर्ट में जज विलियम एम जैकसन के क्लर्क के तौर पर की। इसके साथ ही अपीली अदालत में सीनियर जज के साथ काम किया। डिस्ट्रिक्ट ऑफ कोलंबिया के सुपीरियर कोर्ट में जज बनने पर डीसी चैप्टर ऑफ साउथ एशियन बार एसोसिएशन ने रूपा रंगा को बधाई दी है।

कमजोरों की आवाज उठाने वाली रूपा अमेरिका में जज बनीं, सीनेट की मिली मंजूरी

भारतीय मूल की रूपा रंगा पुट्टागुंटा को डिस्ट्रिक्ट ऑफ कोलंबिया का जिला जज बनाया गया है। अमेरिकी सीनेट ने रूपा के पक्ष में 38 के मुकाबले 57 वोट से उनके नाम को मंजूरी दी है। इस तरह से रूपा अमेरिकी जिला अदालत में बतौर जज पहली एशियाई-अमेरिकी महिला बन गई हैं। बता दें कि पिछले साल मार्च के महीने में राष्ट्रपति बाइडेन ने उनके नाम का प्रस्ताव रखा था। वर्तमान में पुट्टागुंटा डीसी रेंटल हाउसिंग कमीशन में प्रशासनिक न्यायाधीश हैं।

वर्ष 2019 में डीसी रेंटल हाउसिंग कमीशन में नियुक्त होने से पहले रूपा इसी कोर्ट में 2013 से स्वतंत्र तरीके से अभ्यास कर रही थीं। इस दौरान वह कमजोर और लाचार लोगों से जुड़े आपराधिक मामलों में पैरवी करती थीं। इससे पहले उन्होंने पारिवारिक मामलों पर भी काम किया है। रूपा ने डीसी सुपीरियर कोर्ट में बतौर निजी तौर पर लोगों के कल्याण की भावना से प्रेरित होकर काम किया।