'उम्र क्या चीज है!', 12 साल की सागरिका ने ऑस्ट्रेलिया में ऐसे बनाया मुकाम

मंजुला एक प्रसिद्ध नृत्यांगना हैं और रसिका डांस अकादमी की संस्थापक हैं। 9 साल की उम्र में उन्होंने एक कार्यक्रम में करीब साढ़े तीन घंटे तक नृत्य किया। उन्होंने बताया कि इसके लिए उन्होंने एक महीने तक हफ्ते में 25 से 30 घंटे तक नृत्य का अभ्यास किया।

'उम्र क्या चीज है!', 12 साल की सागरिका ने ऑस्ट्रेलिया में ऐसे बनाया मुकाम

ऑस्ट्रेलिया के सिडनी में रहने वाली भारतीय मूल की सागरिका वेंकट की उम्र पर मत जाइएगा। सागरिका की उम्र भले की 12 साल की है, लेकिन भारतीय शास्त्रीय नृत्य में वह निपुण कलाकार हैं। उनकी नृत्य की कला को देखकर आप अचंभित हुए बिना नहीं रह सकते। लेकिन बात सिर्फ इतनी ही नहीं है। वह अपनी कला के माध्यम से जरूरतमंदों की सेवा करने में भी आगे रहती हैं। इन्हीं सब वजहों से ऑस्ट्रेलिया दिवस के खास मौके पर उन्हें कुछ खास तोहफा मिला है। उन्होंने यंग सिटिजन ऑफ द ईयर के अंतिम दौर में जगह बनाई है।

सागरिका का कहना है कि मुझे इस बात पर गर्व है और मैं भारतीय शास्त्रीय नृत्य, अपने मां-पिताजी का शुक्रगुजार हूं जिनकी बदौलत मेरे जीवन में गर्व का यह अवसर आया। सागरिका ने सात साल की उम्र में सिडनी स्थिति अपने हाई स्कूल में नृत्य का जलवा दिखाया और एक पहचान बनाई। सागरिका का कहना है कि उन्होंने महज 5 साल की उम्र से नृत्य का अभ्यास करना शुरू किया। उन्होंने अपनी मां मंजुला वेंकटनाथ से भरतनाट्यम की कला को सीखा।