भारतीय प्रवासियों पर आ रही मोला की फिल्म, कहानी सोचने पर मजबूर करेगी

यह फिल्म फौजिया नामक एक अप्रवासी युवती की कहानी पर है जिसकी हाल ही में शादी हुई है और जिसकी सास ने बेल्जियम में उसे बंधक बना रखा है। रुमाना कहती हैं कि मेरा झुकाव हमेशा से लेखन की ओर था और सही स्टोरी का मिलना बस समय की बात थी।

भारतीय प्रवासियों पर आ रही मोला की फिल्म, कहानी सोचने पर मजबूर करेगी

भारतीय मूल की बेल्जियन अभिनेत्री रुमाना मोला फिल्म 'मिनिमम' के साथ अपनी निर्देशक की पारी शुरू करने के लिए तैयार हैं। यह बेल्जियम में भारतीय प्रवासियों पर एक ड्रामा फिल्म है। इसकी शूटिंग जून से शुरू हो जाएगी। फिल्म में सबा आजाद, गीतांजलि कुलकर्णी और नमित दास मुख्य भूमिकाओं में नजर आएंगे। वहीं, रुमाना भी इसमें एक अहम भूमिका निभाती नजर आएंगी।

यह फिल्म फौजिया नामक एक अप्रवासी युवती की कहानी पर है, जिसकी हाल ही में शादी हुई है और जिसकी सास ने बेल्जियम में उसे बंधक बना रखा है। इस फिल्म को प्लैटून वन फिल्म्स के शिलादित्य बोरा और एल्लानार फिल्म्स की राधिका लवु प्रोड्यूस कर रहे हैं। रुमाना को इस साल बर्लिनाले टैलेंट प्रोग्राम के लिए भी चुना गया था।

रुमाना कहती हैं कि मेरा झुकाव हमेशा से लेखन की ओर था और सही स्टोरी का मिलना बस समय की बात थी। मिनिमम के लिए मुझे प्रेरणा अपने ऑब्जर्वेशंस से मिली थी। उन्होंने कहा कि मैंने कई तरह की लेन-देन वाली शादियां देखी हैं। खासतौर पर विदेशों में, जहां लोग शादी करते हैं लेकिन अपने बारे में सब कुछ सच नहीं बताते। इस फिल्म की विशेषता यह है कि इसमें ऐसी स्थितियों को दिखाया जाएगा।

फिल्म में अभिनय करने वालों में सबा आजाद ने 2008 में आई फिल्म 'दिल कबड्डी' से बॉलीवुड में अपने करियर की शुरुआत की थी। 2011 में आई फिल्म 'मुझसे फ्रेंडशिप करोगे' में उनके अभिनय को खूब सराहा गया था। लोकप्रिय गजल गायक चंदन दास के बेटे नमित दास कई टीवी कमर्शियल में काम कर चुके हैं। इसके अलावा वह थिएटर में भी अभिनय करते हैं। नमित ने वेक अप सिड, लफंगे परिंदे, घनचक्कर, आंखों देखी, हमारी अधूरी कहानी जैसी फिल्मों में भूमिकाएं निभाई हैं।