सालगा (SALGANYC) ने प्रवासी समलैंगिक समुदाय के लिए लंबी लड़ाई लड़ी

अमेरिका में काफी कम जगह पर एशियन समलैंगिकों को सहायता मिलती है। भारतीय कल्चर में ट्रांसफोबिया और होमोफोबिया की जड़ें काफी गहरी हैं। ऐसे में SALGANYC प्रवासी भारतीयों की मदद करता है।

सालगा (SALGANYC) ने प्रवासी समलैंगिक समुदाय के लिए लंबी लड़ाई लड़ी

अमेरिका की न्यूयॉर्क सिटी में ‘द साउथ एशियन लेस्बियन एंड गे एसोसिएशन ऑफ न्यूयॉर्क सिटी (SALGA) 25 वर्ष पुराना पूरी तरह से स्वैच्छिक और गैर-लाभकारी संगठन है। यह संगठन दक्षिण एशियाई समलैंगिक समुदाय का प्रतिनिधित्व करता है, उन्हें सशक्त बनाता है, जागरूक करता है और समाज में मान्यता दिलवाने का प्रयास करता है।

1989 में करीब 12 दक्षिण एशियाई लोगों द्वारा स्थापित इस संस्थान को मूल रूप से दक्षिण एशियाई समलैंगिक एसोसिएशन का नाम दिया गया था। 1991 में कई समलैंगिक महिला सदस्यों के शामिल होने के कारण दक्षिण एशियाई समलैंगिक एसोसिएशन (SAGA) का नाम बदलकर दक्षिण एशियाई लेस्बियन और समलैंगिक एसोसिएशन (SALGA) कर दिया गया।