कसीनो में हारा, अदालत से पैसा वापसी की मांग, सुहेल की अर्जी क्यों हुई खारिज

न्यायाधीश ने कहा कि जुआ खेलने से प्रतिबंधित लोगों की सूची में अपनी इच्छा से खुद को शामिल करवाने के बाद भी वह सन सिटी कसीनो गया और उसके हिसाब से बड़ी मात्रा में पैसा खोया। इसाक का जुआरी गतिविधियों में शामिल होने का खुद का रिकॉर्ड है और वह अपने दुर्भाग्य का खुद जिम्मेदार है।

कसीनो में हारा, अदालत से पैसा वापसी की मांग, सुहेल की अर्जी क्यों हुई खारिज
Photo by Kaysha / Unsplash

भारतीय मूल के एक दक्षिण अफ्रीकी जुआरी को एक अदालती मुकदमे में हार का सामना करना पड़ा है। सुहेल इसाक नामक इस शख्स ने दुनिया के सबसे प्रख्यात कसीनो में से एक सन सिटी (Sun City Casino) के खिलाफ केस दायर किया था, जिसमें उसने वहां खेलते समय हारे 50 लाख रैंड (लगभग ढाई लाख रुपये) से अधिक की राशि कसीनो से वापस दिलाने की मांग की थी।

पत्नी के क्रेडिट कार्ड से इसाक ने 52 लाख रैंड का जुआ खेल डाला था। Photo by Adi Coco / Unsplash

दक्षिण गॉटेंग हाईकोर्ट में दाखिल इस अजीबो-गरीब मामले में स्थानीय कारोबारी इसाक ने दावा किया था कि सन सिटी ने उन्हें गेमिंग टेबल पर वापस जाने की अनुमति देकर गलती की थी, जब बाध्यकारी जुआ से संबंधित कानून के तहत उन्हें प्रतिबंधित सूची में रखा गया था।

बता दें कि दक्षिण अफ्रीकी नेशनल गैंबलिंग एक्ट ((SANGA)) जुआघरों में प्रवेश से प्रतिबंधित किए गए लोगों का एक रजिस्टर बनाने के लिए नेशनल गेमिंग बोर्ड (NGB) को शक्ति देता है। यह काम किसी संस्थान या संबंधित व्यक्ति के अनुरोध पर किया जाता है। इसाक का नाम इस रजिस्टर में उसके खुद के अनुरोध पर नवंबर 2017 शामिल किया गया था।

इसाक ने दावा किया है कि प्रतिबंध के बावजूद मुझे सन सिटी में प्रवेश मिला। उन्होंने कहा कि सन सिटी ने न केवल मुझे प्रवेश देकर गलती की बल्कि उसने जुआ खेलने के लिए यह जानते हुए भी मेरी पत्नी के क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करने की अनुमति दी कि वह किसी और का कार्ड है। पत्नी के क्रेडिट कार्ड से इसाक ने 52 लाख रैंड का जुआ खेल डाला था।

हालांकि हाईकोर्ट ने सन सिटी के लिए होल्डिंग कंपनी सन इंटरनेशनल की इस दलील को स्वीकार किया कि इसाक के दावे को खारिज कर दिया गया है। कार्यकारी न्यायाधीश एंडी बेस्टर ने कहा कि इसाक का जुआरी गतिविधियों में शामिल होने का खुद का रिकॉर्ड है और वह अपने दुर्भाग्य का खुद जिम्मेदार है।

न्यायाधीश ने कहा कि जुआ खेलने से प्रतिबंधित लोगों की सूची में अपनी इच्छा से खुद को शामिल करवाने के बाद भी वह सन सिटी कसीनो गया और उसके हिसाब से बड़ी मात्रा में पैसा खोया। इसके साथ ही हाईकोर्ट ने इसाक की अपील को खारिज कर दिया।