रूस से हथियार खरीदने के लिए भारत पर न लगाए प्रतिबंध: दो यूएस सीनेटर

पत्र में सीनेटरों ने कहा कि प्रतिबंधों को लागू करना 2016 काउंटरिंग अमेरिकाज एडवर्सरीज थ्रू सेंक्शंस एक्ट (CAATSA) के प्रावधानों के तहत बढ़ते अमेरिका-भारत संबंधों को अपूर्णीय रूप से नुकसान पहुंचा सकता है।

रूस से हथियार खरीदने के लिए भारत पर न लगाए प्रतिबंध: दो यूएस सीनेटर

अमेरिका के सीनेट और इंडिया कॉकस के सह-अध्यक्ष मार्क वार्नर और जॉन कॉर्निन ने राष्ट्रपति जो बाइडेन को रूस से सैन्य उपकरण खरीदने के लिए भारत पर प्रतिबंध न लगाने का आग्रह किया है। इस बाबत उन्होंने पत्र भी लिखा है।

पत्र में सीनेटरों ने कहा कि प्रतिबंधों को लागू करना CAATSA के प्रावधानों के तहत बढ़ते अमेरिका-भारत संबंधों को अपूरणीय रूप से नुकसान पहुंचा सकता है। Photo : Indian star library

दरअसल 2018 में भारत ने रूस के साथ सैन्य उपकरणों की खरीद पर 5.43 बिलियन डॉलर के सौदे को अंतिम रूप दिया जिसमें पांच S400 ट्रायम्फ एयर-डिफेंस मिसाइल सिस्टम खरीदने पर सहमति हुई। इस साल के अंत तक मिसाइलों की भारत में डिलीवरी होने की उम्मीद है। पिछले तीन वर्षों में प्रतिबंधों की धमकी के बावजूद नरेंद्र मोदी सरकार सौदे से पीछे नहीं हटी है।

पत्र में सीनेटरों ने कहा कि प्रतिबंधों को लागू करना 2016 काउंटरिंग अमेरिकाज एडवर्सरीज थ्रू सेंक्शंस एक्ट (CAATSA) के प्रावधानों के तहत बढ़ते अमेरिका-भारत संबंधों को अपूर्णीय रूप से नुकसान पहुंचा सकता है।