रिपब्लिकन सांसदों ने पेश किया नया बिल, भारतीय छात्रों पर 'संकट' के बादल?

वर्तमान में भारत के करीब 80,000 छात्र ओपीटी प्रोग्राम में नामांकित हैं। यदि यह बिल पास हो जाता है, तो उन्हें स्वदेश लौटने के लिए मजबूर होना पड़ेगा।

रिपब्लिकन सांसदों ने पेश किया नया बिल, भारतीय छात्रों पर 'संकट' के बादल?
Photo by Chris Grafton / Unsplash

रिपब्लिकन पार्टी के चार सांसदों ने बीती 22 जुलाई को "उच्च कुशल अमेरिकियों के लिए निष्पक्षता अधिनियम" पेश किया, जो वैकल्पिक व्यावहारिक प्रशिक्षण (OPT) प्रोग्राम को समाप्त करना चाहता है। ओपीटी प्रोग्राम वर्तमान में अमेरिकी विश्वविद्यालयों में एसटीईएम प्रोग्राम में नामांकित विदेशी छात्रों को पढ़ाई करने के दौरान या ग्रेजुएट होने के बाद 12 महीने तक काम करने की अनुमति देता है।

इमिग्रेशन एंड कस्टम्स इंफोर्समेंट के आंकड़ों के अनुसार, वर्तमान में भारत के करीब 80,000 छात्र ओपीटी प्रोग्राम में नामांकित हैं। यदि यह बिल पास हो जाता है, तो उन्हें स्वदेश लौटने के लिए मजबूर होना पड़ेगा। यह बिल एरिज़ोना के रिपब्लिकन सांसद पॉल गोसर और एंडी बिग्स, अलबामा के मो ब्रूक्स व फ्लोरिडा के मैट गेट्ज़ ने मिलकर पेश किया। फिलहाल यह बिल हाउस ज्यूडिशियरी कमेटी के पास है। हालांकि इस बिल के डेमोक्रेट-बहुमत वाले सदन और सीनेट से पास होने की बहुत कम संभावना है।