भारतीयों के योगदान को जमैका की सरकार भी मानती है: राष्ट्रपति कोविंद

राष्ट्रपति कोविंद के जमैका दौरे की शुरुआत सोमवार को हुई जहां उनका स्वागत करने एयरपोर्ट पर खुद जमैका के गवर्नर जनरल पैट्रिक एलन औऱ पीएम एंड्रूयू होलनेस पहुंचें। राष्ट्रपति कोविंद की यह यात्रा भारत और जमैका के कूटनीतिक संबंध के 60 साल पूरे होने के अवसर पर हो रही है।

भारतीयों के योगदान को जमैका की सरकार भी मानती है: राष्ट्रपति कोविंद
भारतीय समुदाय को संबोधित करते राष्ट्रपति कोविंद।

भारत के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने जमैका दौरे पर भारतीय समुदाय के लोगों से मुलाकात की और इस कैरीबियाई देश की तरक्की में उनके योगदान की सराहना की। राष्ट्रपति कोविंद ने भारतीय समुदाय से कहा कि देश से दूर जब मैंने अपने लोगों को भारत का झंडा लिए देखा तो उन्हें देखते ही मेरी यात्रा की सारी थकान दूर हो गई।

यह भारतीयता ही है जो आकर्षित करती है

राष्ट्रपति कोविंद मंगलवार को जमैका के किंगस्टन में भारतीयों के बीच पहुंचे। उन्होंने भारतवंशियों को हिंदी और अंग्रेजी दोनों ही भाषा में संबोधित किया। राष्ट्रपति कोविंद ने भारतीय समुदाय को कहा, 'जब मैं जमैका आने पर होटल में प्रवेश कर रहा था, मुझे भारतीय समुदाय के लोग नजर आए, उनमें बच्चे भी थे। सबसे बड़ी बात यह थी कि उनके हाथ में तिरंगा था। तिरंगे की शान और पहचान इतनी आकर्षक होती है कि मैं उनसे बिना मिले अंदर जा नहीं पाया।'

राष्ट्रपति कोविंद ने भारतीय समुदाय से कहा कि किंगस्टन आकर मुझे लगा ही नहीं कि मैं भारत में नहीं हूं। उन्होंने कहा, 'मुझे लगा कि मैं भारत के किसी शहर में हूं, ये जो भारतीयता का अपनापन है, वह एक दूसरे को बहुत जल्दी आकर्षित करता है। यही वह चीज है जिसके कारण 15-16 घंटे की यात्रा के बाद यहां आने पर हम जेट लेग और थकावट भूल जाते हैं। भारतीयों के हाथ में तिरंगा देखकर थकावट दूर हो जाती है।

'आपके योगदान को जमैका सरकार भी मानती है'

राष्ट्रपति कोविंद ने जमैका में प्रवासी भारतीयों के योगदान की सराहना करते हुए कहा, ' जमैका में  भारतीय 175 सालों से रह रहे हैं। मुझे खुशी है कि वे यहां शांति और सौहार्द के साथ रह रहे हैं और विकास में अपना योगदान दे रहे हैं। इस सुबह मैंने गवर्नर जनरल से बात की और पीएम से भी मिला, दोनों ने भारतीय समुदाय के योगदान,  दूसरे समुदाय से मेलजोल करने की सराहना की। उन्होंने कहा कि उन्हें नहीं लगता है कि भारतीय बाहर से आए हैं। उनका यह बयान हमारे लिए बड़ी उपलब्धि है।'

गार्ड ऑफ ऑनर का निरीक्षण करते राष्ट्रपति कोविंद।

किसी भारतीय राष्ट्रपति की पहली जमैका यात्रा

राष्ट्रपति कोविंद के जमैका दौरे की शुरुआत सोमवार को हुई, जहां उनका स्वागत करने गवर्नर जनरल पैट्रिक एलन और पीएम एंड्रूयू होलनेस एयरपोर्ट पर पहुंचे थे। राष्ट्रपति कोविंद की यह यात्रा भारत और जमैका के कूटनीतिक संबंध के 60 साल पूरे होने के अवसर पर हो रही है। बता दें कि कोविंद जमैका का दौरा करने वाले पहले भारतीय राष्ट्रपति हैं।