पुलिस अधिकारी परमहंस के परिवार की आर्थिक मदद को आगे आए भारतीय अमेरिकी

38 वर्षीय परमहंस देसाई को अमेरिका के जॉर्जिया राज्य के मैकडोनो में एक घर में प्रवेश के दौरान गोली मार दी गई थी। देसाई हेनरी काउंटी में एक पुलिस अफसर थे। वह वर्ष 2020 में विभाग में शामिल हुए थे। परमहंस के परिवार में उनकी पत्नी अंकिता और दो छोटे बच्चे हैं।

पुलिस अधिकारी परमहंस के परिवार की आर्थिक मदद को आगे आए भारतीय अमेरिकी

अमेरिका के जॉर्जिया राज्य के हेनरी काउंटी पुलिस डिपार्टमेंट में अफसर रहे परमहंस देसाई की बीते दिनों गोली मारकर हत्या कर दी गई। अब अमेरिका में बसे भारतीय देसाई के ​परिवार की मदद के लिए आगे आए हैं। परमहंस देसाई के परिवार के लिए भारतीय अमेरिकी मात्र दो दिन के भीतर लगभग 3 लाख डॉलर (2,25,00,000 रुपये) की मदद अभी तक कर चुके हैं। खास बात यह भी है कि परमहंस देसाई की बहन दिव्या देसाई ने मात्र 2,50,000 डॉलर की मदद के लिए ऑनलाइन गुहार लगाई थी। जबकि यह राशि वक्त के साथ साथ बढ़ रही है।

दिव्या ने बताया कि परम का एक ही सपना था पुलिस ऑफिसर बनने का। जब वह 8 बरस का था तब वह नीले रंग की पोशाक पहने समुदाय की रक्षा और सेवा करने की बात करता था। 

दरअसल 38 वर्षीय परमहंस देसाई को अमेरिका के जॉर्जिया राज्य के मैकडोनो में एक घर में प्रवेश के दौरान गोली मार दी गई थी। देसाई हेनरी काउंटी में एक पुलिस अफसर थे। देसाई को घरेलू हिंसा को लेकर कॉल आई थी। जब देसाई घर में घुसे और आरोपी को पकड़ने के लिए आगे बढे़ तो उन्हें गोली मार दी गई। यह घटना 4 नवंबर की है। गोली लगने के बाद देसाई को ग्रेडी मेमोरियल हॉस्पिटल ले जाया गया था जहां बाद में उनकी मौत हो गई।