13वें BRICS शिखर सम्मेलन की अध्यक्षता करेंगे मोदी, इन मुद्दों पर होगी चर्चा

रूस को छोडकर ब्रिक्स के सभी सदस्य विकासशील या नव औद्योगीकृत देश हैं, जिनकी अर्थव्यवस्था तेजी से बढ़ रही है। ब्रिक्स समिट में वे महत्वपूर्ण मुद्दों पर चर्चा करते हैं और क्षेत्रीय व वैश्विक मामलों पर महत्वपूर्ण प्रभाव डालते हैं।

13वें BRICS शिखर सम्मेलन की अध्यक्षता करेंगे मोदी, इन मुद्दों पर होगी चर्चा

भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 9 सितंबर (गुरुवार) को 13वें ब्रिक्स शिखर सम्मेलन (BRICS Summit) की अध्यक्षता करेंगे। इस वर्चुअल सम्मेलन में ब्राजील के राष्ट्रपति जायर बोल्सोनारो, रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन, चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग और दक्षिण अफ्रीका के राष्ट्रपति सिरिल रामफोसा शिरकत करेंगे। इस दौरान ब्रिक्स के 15 साल पूरे होने पर तमाम मुद्दों पर चर्चा की जाएगी, इनमें कोविड-19 महामारी के अलावा अन्य मौजूदा वैश्विक और क्षेत्रीय मुद्दे शामिल होंगे।

इस बार शिखर सम्मेलन की थीम 'ब्रिक्स @15: निरंतरता, समेकन और आम सहमति के लिए परस्पर-ब्रिक्स सहयोग' है। भारत ने अपनी अध्यक्षता के लिए चार प्राथमिकता वाले क्षेत्रों की रूपरेखा तैयार की है। इनमें बहुपक्षीय प्रणाली में सुधार, आतंकवाद का मुकाबला, एसडीजी हासिल करने के लिए डिजिटल और तकनीकी साधनों का इस्तेमाल और लोगों से लोगों के बीच आदान-प्रदान बढ़ाना आदि मुद्दे शामिल हैं। इन क्षेत्रों के अलावा पांचों देशों के नेता हमने वैश्विक और क्षेत्रीय मुद्दों पर भी विचारों का आदान-प्रदान करेंगे।