ओमिक्रॉन वेरिएंट: भारत आए प्रवासी 'गायब' हो गए, परेशान शासन तलाश में जुटा

हरियाणा के तीन जिलों को मिलाकर 121 विदेशी रिटर्न गायब हैं। अकेले करनाल में उच्च जोखिम वाले देशों से 731 विदेशी रिटर्न के आगमन की सूचना मिली है। उनमें से 655 का पता लगा लिया गया है और उनके आरटी-पीसीआर परीक्षण किए जा रहे हैं। शेष 76 यात्रियों का अभी पता नहीं चल सका है।

ओमिक्रॉन वेरिएंट: भारत आए प्रवासी 'गायब' हो गए, परेशान शासन तलाश में जुटा
Photo by Mark König / Unsplash

कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन को लेकर दुनिया फिर से सिर खुजा रही है, वहीं भारत के राज्य हरियाणा में लापरवाही का एक बड़ा मामला सामने आया है। हरियाणा के रोहतक और रेवाड़ी क्षेत्र में विदेश से घर लौटे 45 भारतीय नागरिक लापता हैं। स्वास्थ्य विभाग को उनकी लोकेशन का पता नहीं चल रहा है। दिशा-निर्देशों के अनुसार ओमिक्रॉन वेरिएंट के मद्देनजर विदेश से भारत आने वालों को सात दिनों तक होम क्वारंटाइन करना अनिवार्य है।

मिली जानकारी के अनुसार 45 में से 30 विदेशी रिटर्न रेवाड़ी के हैं जबकि 15 रोहतक से हैं। गंभीर बात यह भी है कि पासपोर्ट में इनका घर का पता अधूरा है और इनके मोबाइल नंबर भी ​बंद पड़े हैं। जिस कारण इनका पता नहीं चल पाया है। स्वास्थ्य अधिकारी अब पासपोर्ट में दिए घर के एड्रेस के पड़ोस में रहने वाले लोगों से संपर्क करके इन सभी का पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं।