रूस-यूक्रेन जंग के चलते उड़ानों में हो रही देरी, भारत के एनआरआई परेशान

विदेश जाने के लिए फ्लाइट में देरी हो रही है। मुसाफिरों को एयरपोर्ट पर घंटों इंतजार करना पड़ रहा है। भारत के पंजाब प्रांत में रहने वाले एनआरआई को वापस कनाडा जाने में कई तरह की दिक्कतों को सामना करना पड़ रहा है।

रूस-यूक्रेन जंग के चलते उड़ानों में हो रही देरी, भारत के एनआरआई परेशान
Photo by Suhyeon Choi / Unsplash

रूस और यूक्रेन के बीच चल रही जंग से सिर्फ वही लोग चिंतित नहीं हैं जिनके परिवार का कोई न कोई सदस्य इस वक्त यूक्रेन में फंसा हुआ है। इस लड़ाई ने दुनिया के कई हिस्सों में रह रहे लोगों के लिए मुश्किलें बढ़ा दी हैं। विदेश जाने के लिए फ्लाइट में देरी हो रही है। मुसाफिरों को एयरपोर्ट पर घंटों इंतजार करना पड़ रहा है। भारत के पंजाब प्रांत में रहने वाले एनआरआई को वापस कनाडा जाने में कई तरह की दिक्कतों को सामना करना पड़ रहा है। इनका कहना है कि मॉन्ट्रियल और टोरंटो से जुड़ने वाली उड़ानों में देरी हो रही है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि वैंकूवर हवाईअड्डे से जाने वाली उड़ानें तुलनात्मक रूप से कम परेशानी वाली हैं।

Sunset light falling on empty seats in the plane
अमृतसर के गुरजंत सिंह का कहना है कि जो लोग वाया मॉन्ट्रियल से यात्रा कर रहे हैं उन्हें करीब 25 से 26 घंटे की देरी का सामना करना पड़ रहा है। Photo by Aleksei Zaitcev / Unsplash

अमृतसर के वडाला गांव के कंवलजीत सिंह सेखों का कहना है कि उन्होंने बुधवार सुबह कनाडा के लिए वाया वैंकूवर की फ्लाइट ली। लेकिन इसके लिए उन्हें दिल्ली में एयरपोर्ट पर 6 घंटे का इंतजार करना पड़ा। कारण, फ्लाइट देरी से चल रही थी। उन्होंने बताया कि दिल्ली एयरपोर्ट पर देरी की वजह से उन्हें अब वैंकूवर हवाईअड्डे पर 8 घंटे ज्यादा बिताने होंगे और उनके वक्त की बर्बादी होगी। कंवलजीत सेखों को एडमोंटन जाना था, लेकिन उस वक्त वैंकूवर से एडमोंटन के लिए कोई सीधी उड़ान उपलब्ध नहीं थी। इसलिए उन्होंने कैलगरी के लिए एक टिकट बुक किया, जहां से वह दूसरी फ्लाइट लेंगे।