अब भारतीयों को विदेशों में नौकरी पाना होगा आसान, तेजस योजना की शुरुआत

‘तेजस’ परियोजना के माध्यम से प्रारंभिक चरण के दौरान संयुक्त अरब अमीरात (UAE) में 10,000 कुशल कामगार तैयार किए जाएंगे। इस परियोजना का उद्देश्य भारतीयों को कुशल बनाना, प्रमाण पत्र प्रदान करना और विदेश में रोजगार का अवसर प्रदान करना है।

अब भारतीयों को विदेशों में नौकरी पाना होगा आसान, तेजस योजना की शुरुआत

भारत के सूचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर दुबई यात्रा पर हैं। अपनी यात्रा में उन्होंने विदेश में रह रहे भारतीयों को प्रशिक्षित करने के लिए एक कौशल भारत अंतर्राष्ट्रीय परियोजना ‘तेजस' का शुभारंभ किया। इस परियोजना का उद्देश्य भारतीयों को कुशल बनाना, प्रमाणपत्र प्रदान करना और विदेश में रोजगार का अवसर प्रदान करना है। ‘तेजस’ परियोजना के माध्यम से प्रारंभिक चरण के दौरान संयुक्त अरब अमीरात (UAE) में 10,000 कुशल कामगार तैयार किए जाएंगे।

‘तेजस’ का उद्देश्य भारतीय कामगारों को कुशल बनाने के साथ-साथ यूएई की बाजार आवश्यकताओं के अनुरूप सक्षम बनाना है।

‘तेजस’ का उद्देश्य भारतीय कामगारों को कुशल बनाने के साथ-साथ यूएई की बाजार आवश्यकताओं के अनुरूप सक्षम बनाना है। परियोजना के शुभारंभ के दौरान अनुराग ठाकुर ने कहा कि राष्ट्र निर्माण और छवि निखारने दोनों में युवा सबसे ज्यादा काम आते हैं। उन्होंने कहा कि हमारा लक्ष्य इन युवाओं को कुशल बनाकर और दुनिया को भारत की ओर से एक विशाल कुशल श्रमबल उपलब्‍ध कराने पर है।