भारत को बहुत कुछ देगा नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट, मोदी ने किया शिलान्यास

एयरपोर्ट के सितंबर 2024 में शुरू होने की उम्‍मीद है। इसके बनने से दिल्‍ली एयरपोर्ट का एयर ट्रैफिक लोड कम होगा। दिल्‍ली के इंदिरा गांधी अन्तर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा से नोएडा एयरपोर्ट की दूरी 70 किलोमीटर है। उड्डयन मंत्रालय के अनुसार लगभग 35 हजार यात्री दिल्‍ली से नोएडा एयरपोर्ट की तरफ जाएंगे।

भारत को बहुत कुछ देगा नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट, मोदी ने किया शिलान्यास

भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उत्तर प्रदेश (UP) चुनाव से पहले प्रदेश को एक और इंटरनेशनल एयरपोर्ट की सौगात दी है। एशिया के सबसे बड़े एयरपोर्ट बनने जा रहे नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट (Noida International Airport ) का उन्होंने शिलान्यास किया। कुछ दिन पहले ही उन्होंने कुशीनगर में इंटरनेशनल एयरपोर्ट का उद्घाटन किया था।

शिलान्यास अवसर पर पीएम मोदी ने कहा कि यूपी की इंटरनेशनल एयर कनेक्टिविटी यूपी को नई पहचान दे रहा है। आने वाले दो तीन सालों में पांच इंटरनेशनल एयरपोर्ट वाला राज्य बन जाएगा। उन्होंने कहा कि हम चाहते तो साल 2017 में ही यहां आकर शिलान्यास कर देते लेकिन हमने ऐसा नहीं किया। हमारी कोशिश है कि प्रोजेक्ट लटके नहीं, भटके नहीं। तय समय पर काम पूरा हो, देरी होने पर जुर्माने का भी प्रावधान है।