मुरलीधरन ने किया मंदिर निर्माण स्थल का दौरा, यूएई सरकार का आभार माना

आबू धाबी में बन रहे इस मंदिर के निर्माण के लिए कई टन गुलाबी बलुआ पत्थर उत्तरी राजस्थान से अबू धाबी भेजा जाएगा। इस पत्थर में अबू धाबी के 50 डिग्री सेल्सियस (122 डिग्री फारेनहाइट) तक गर्मी के तापमान झेलने की क्षमता है।

मुरलीधरन ने किया मंदिर निर्माण स्थल का दौरा, यूएई सरकार का आभार माना

भारत के विदेश राज्य मंत्री (एमओएस) वी मुरलीधरन ने अबू धाबी में बोचासनवासी अक्षर पुरुषोत्तम स्वामीनारायण (BAPS) मंदिर के निर्माण स्थल का दौरा किया।

मंदिर बनने के बाद मध्य पूर्व में यह पहला पारंपरिक पत्थर का हिंदू मंदिर होगा।

मंत्री ने कहा कि मंदिर बनने के बाद मध्य पूर्व में यह पहला पारंपरिक पत्थर का हिंदू मंदिर होगा। उन्होंने मंदिर निर्माण में लगातार समर्थन के लिए यूएई सरकार का आभार जताया।