'अमेरिका-भारत में मुक्त व्यापार समझौता संभावित, लेकिन बाधाएं भी बहुत'

भारत के वाणिज्य और उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने यूएस-इंडिया स्ट्रेटेजिक पार्टनरशिप फोरम के चौथे वार्षिक नेतृत्व शिखर सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि भारत और अमेरिका को और अधिक बड़े तरीके से जुड़ना चाहिए जिसके लिए नई दिल्ली अमेरिका के साथ आर्थिक साझेदारी का विस्तार करने के लिए तैयार है

'अमेरिका-भारत में मुक्त व्यापार समझौता संभावित, लेकिन बाधाएं भी बहुत'

अमेरिका और भारत के बीच जिस तरह से संबंध लगातार सहज हो रहे हैं, उसको लेकर एक शीर्ष भारत-केंद्रित व्यापार वकालत समूह ने संभावना जताई है कि अमेरिका-भारतीय संबंधों में अगला कदम एक मुक्त व्यापार समझौता होगा। हालांकि यह 'रास्ता' बाधाओं से भरा होगा।

यूएस-इंडिया बिजनेस काउंसिल की अध्यक्ष और पूर्व अमेरिकी राजनयिक निशा देसाई बिसवाल ने इंडियास्पोरा द्वारा आयोजित रात्रिभोज में कहा कि अमेरिका को भारत की ओर से मुक्त व्यापार समझौते के प्रति दिलचस्पी के संकेत दिखने शुरू हो गए हैं इसलिए भारत-अमेरिकी संबंधों को इस दिशा में मोड़ने का यही सही समय है। बिसवाल ने चुनौतियों को भी ध्यान में रखा और कहा कि यह आसान नहीं होगा, यह सभी प्रकार की बाधाओं से भरा रास्ता होगा।