कोरोना महामारी से खिसक गई भारतीय पासपोर्ट की रैकिंग, शीर्ष पर है जापान

हेनले पासपोर्ट इंडेक्स 227 गंतव्य और 199 पासपोर्ट को अपनी रिपोर्ट में शामिल करता है। हेनले देशों के पासपोर्ट को उन गंतव्यों की संख्या के अनुसार रैंक करता है जहां उनके धारक बिना पूर्व वीजा के यात्रा कर सकते हैं।

कोरोना महामारी से खिसक गई भारतीय पासपोर्ट की रैकिंग, शीर्ष पर है जापान

कोरोनो महामारी ने दुनिया के जिन देशों में सबसे ज्यादा तबाही मचाई उनमें अमेरिका के अलावा भारत भी शामिल है। इस महामारी ने इन दोनों देशों को जितना नुकसान पहुंचाया है उसको रिकवर करने में अभी काफी समय लगना है। हेनले पासपोर्ट इंडेक्स ने हाल ही में एक रिपोर्ट जारी की है जिसमें भारत का पासपोर्ट महामारी की वजह से छह पायदान अंक गिरकर 90वें स्थान पर पहुंच गया है।

दुनिया के 10 सबसे शक्तिशाली पासपोर्ट:

  1. जापान, सिंगापुर (स्कोर: 192)
  2. जर्मनी, दक्षिण कोरिया (स्कोर: 190)
  3. फिनलैंड, इटली, लक्जमबर्ग, स्पेन (स्कोर: 189)
  4. ऑस्ट्रिया, डेनमार्क (स्कोर: 188)
  5. फ्रांस, आयरलैंड, नीदरलैंड, पुर्तगाल, स्वीडन (स्कोर: 187)
  6. बेल्जियम, न्यूजीलैंड, स्विट्ज़रलैंड (स्कोर: 186)
  7. चेक गणराज्य, ग्रीस, माल्टा, नॉर्वे, यूनाइटेड किंगडम, संयुक्त राज्य अमेरिका (स्कोर: 185)
  8. ऑस्ट्रेलिया, कनाडा (स्कोर: 184)
  9. हंगरी (स्कोर: 183)
  10. लिथुआनिया, पोलैंड, स्लोवाकिया (स्कोर: 182)

हेनले पासपोर्ट इंडेक्स की रिपोर्ट में भारत पिछले साल 84वें स्थान पर था जो इस साल 90वें स्थान पर खिसक गया। हेनले पासपोर्ट इंडेक्स दुनिया के सबसे अधिक यात्रा-अनुकूल पासपोर्टों को सूचीबद्ध करता है। हेनले पासपोर्ट इंडेक्स की रिपोर्ट ऐसे समय पर आई है जब जब देश महामारी की शुरुआत के लगभग दो साल बाद अंतरराष्ट्रीय पर्यटकों के लिए यात्रा नियमों में ढील दे रहे हैं।