मध्य प्रदेश के पन्ना टाइगर रिजर्व में दिखी लुप्तप्राय 'फिशिंग कैट'

मछली खाने वाली दुर्लभ बिल्ली पहली बार कैमरा ट्रेप में कैद हुई है। भारतीय वन्यजीव संरक्षण अधिनियम 1972 की अनुसूची-एक के अनुसार फिशिंग कैट का शिकार प्रतिबंधित है।

मध्य प्रदेश के पन्ना टाइगर रिजर्व में दिखी लुप्तप्राय 'फिशिंग कैट'

भारत स्थित मध्य प्रदेश के पन्ना टाइगर रिजर्व में जहां बाघों की संख्या तेजी से बढ़ रही है, वहीं अन्य वन्यप्राणियों की तादाद में भी इजाफा हो रहा है। यहां अब विलुप्त हो रही मछली खाने वाली बिल्ली जिसे 'फिशिंग कैट' कहते हैं, कैमरे में कैद हुई है।

फिशिंग कैट की उपस्थिति के संकेत पहले भी मिले थे, पर फोटो के रूप में पहला प्रमाण अभी मिला है।

पन्ना टाइगर रिजर्व में वन्य जीवों के मामले में एक अदभुत मछली खाने वाली दुर्लभ बिल्ली पहली बार कैमरा ट्रेप में कैद हुई है। 'फिशिंग कैट' की मौजूदगी टाइगर रिजर्व में खास मायने रखती है।

पन्ना टाइगर रिजर्व के मध्य से तकरीबन 55 किलोमीटर तक प्रवाहित होने वाली केन नदी के आस-पास फिशिंग कैट की उपस्थिति के संकेत पहले भी मिले थे, पर फोटो के रूप में पहला प्रमाण अभी मिला है।