UAE का लुलु भारत में करेगा करोड़ों का निवेश, हजारों नौकरियां भी देगा

लुलु ग्रुप का कहना है कि लुलु ग्रुप के इस निवेश से अकेले कर्नाटक राज्य में लगभग 10,000 नौकरियां स्थापित होने का अनुमान है। यह कंपनी चावल, फल, सब्जियां, मसाले और अन्य वस्तुओं का ​एक्सपोर्ट भी करता है। लुलु ग्रुप के दिल्ली, महाराष्ट्र, कर्नाटक, तमिलनाडु और केरल में भी कार्यालय हैं।

UAE का लुलु भारत में करेगा करोड़ों का निवेश, हजारों नौकरियां भी देगा

यूएई में भारतीय मूल के एमए यूसुफ अली की अध्यक्षता वाले लुलु ग्रुप ने भारत के कर्नाटक राज्य की मौजूदा सरकार के साथ एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए हैं। कर्नाटक में ग्रुप 2000 करोड़ रुपये के निवेश के जरिए चार शापिंग मॉल, हाइपरमार्केट और कृषि निर्यात के लिए खाद्य प्रसंस्करण इकाई स्थापित करेगा।

दावोस में मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई और लुलु समूह के अध्यक्ष एमए यूसुफ अली की उपस्थिति में अतिरिक्त मुख्य सचिव (उद्योग) ईवी रमना रेड्डी और लुलु के निदेशक एवी अनंत राम द्वारा हस्ताक्षरित समझौता ज्ञापन के अनुसार लुल ग्रुप द्वारा किया जाने वाला यह 2000 करोड़ रुपये का निवेश इस वित्तीय वर्ष से ही शुरू हो जाएगा।

दावोस में विश्व आर्थिक मंच (WEF) में हिस्सा लेने के लिए कर्नाटक सरकार में उद्योग मंत्री मुरुगेश निरानी और आईटी/बीटी मंत्री सीएन अश्वथ नारायण भी कर्नाटक के मुख्यमंत्री के साथ मौजूद हैं। वहीं लुलु ग्रुप का इस निवेश को लेकर कहना है कि लुलु ग्रुप के इस निवेश से अकेले कर्नाटक राज्य में लगभग 10,000 नौकरियां स्थापित होने का अनुमान है।

जानकारी के लिए आपको बता दें कि यूएई में लुलु ग्रुप का मुख्यालय है और यह मीडिल ईस्ट में सबसे बड़ा खुदरा विक्रेता है। हालांकि एक्सपोर्ट की बात की जाए तो यह कंपनी चावल, फल, सब्जियां, मसाले और अन्य वस्तुओं का ​एक्सपोर्ट भी करता है। लुलु ग्रुप के दिल्ली, महाराष्ट्र, कर्नाटक, तमिलनाडु और केरल में भी कार्यालय हैं।