भारत के स्वर्ग कश्मीर में 7 साल बाद खेले जाएंगे गोल्फ के प्रोफेशनल टूर इवेंट

पीजीटीआई के बाकी बचे 10 इवेंट सितंबर से दिसंबर के बीच में खेले जाएंगे।

भारत के स्वर्ग कश्मीर में 7 साल बाद खेले जाएंगे गोल्फ के प्रोफेशनल टूर इवेंट

सात सालों के बाद भारत के 'स्वर्ग' कश्मीर में  फिर से प्रोफेशनल गोल्फ की वापसी हो रही है। वर्ष 2014 के बाद पहली बार कश्मीर में भारतीय प्रोफेशनल गोल्फ टूर यानी कि पीजीटीआई इवेंट के आयोजन फिर से किया जाएगा। जम्मू एंड कश्मीर ओपन इस साल सितंबर 15 से 18 तक खेला जाएगा और इसका आयोजन श्रीनगर के रॉयल स्प्रिंग्स गोल्फ क्लब में होने जा रहा है। टाटा स्टील प्रोफेशनल गोल्फ टूर आफ इंडिया (पीजीटीआई ) इवेंट्स की शुरुआत 2 सितंबर से करने जा रहा है।

पिछले दो साल से पीजीटीआई इवेंट्स पर भी कोरोना वायरस की मार पड़ी है। 2020-21 सीजन में कुल दस इवेंट खत्म होने के बाद कोरोना वायरस महामारी की वजह से करीब 5 महीनों तक पीजीटीआई इवेंट्स को बंद कर दिया गया था। लेकिन अब पीजीटीआई इवेंट्स की दोबारा शुरुआत करने का फैसला किया गया है। बाकी बचे 10 इवेंट सितंबर से दिसंबर के बीच में खेले जाएंगे। इसमें कुल पुरस्कार राशि 0.89 मिलियन डॉलर (करीब 6.6 करोड़ रुपये)  है।

नई दिल्ली में टाटा मोटर्स के अध्यक्ष, यात्री वाहन व्यवसाय, शैलेश चंद्रा के साथ भारतीय महिला हॉकी टीम अल्ट्रोज़ कार के साथ पोज़ देते हुए।

भारत के अग्रणी ऑटोमोटिव ब्रांड टाटा मोटर्स ने हाल ही में आयोजित टोक्यो ओलंपिक में कांस्य पदक जीतने वाले भारतीय एथलीटों को हैचबैक के स्वर्ण मानक अल्ट्रोज़ की चाबियां सौंपीं। उन्होंने भले ही पदक नहीं जीता हो, लेकिन अपने सराहनीय प्रदर्शन से लाखों लोगों का दिल जीता है और करोड़ों लोगों को प्रेरित किया है। टाटा मोटर्स ने हॉकी, कुश्ती, गोल्फ, बॉक्सिंग और डिस्कस थ्रो जैसी श्रेणियों में 24 ओलंपियनों को सम्मानित किया। प्रत्येक एथलीट को उनके प्रयासों के लिए हाई स्ट्रीट गोल्ड रंग में एक अल्ट्रोज़ सौंपा गया।