ऑस्ट्रेलिया में 10 साल की भारतीय बच्ची की सहायता के लिए आगे आए लोग

परिवार से जुड़े करीबी लोगों का कहना है कि परिवार के लोग भारत से ऑस्ट्रेलिया जाने के लिए वीजा के इंतजाम में जुटे हैं। छोटी सी बच्ची एंजेला की देखभाल करने के लिए ऑस्ट्रेलिया में परिवार को कोई अन्य सदस्य नहीं है।

ऑस्ट्रेलिया में 10 साल की भारतीय बच्ची की सहायता के लिए आगे आए लोग

ऑस्ट्रेलिया के मेलबर्न में रहने वाली भारतीय मूल के परिवार की 10 साल की बच्ची बदहवास और डरी हुई है। उनकी मां और छोटी बहन की हत्या हो चुकी है। इनकी हत्या के आरोप में उसके पिता पुलिस की हिरासत में हैं। भारत में रहने वाले उनके परिवार के लोग अब तक नहीं पहुंच पाए हैं। वे वीजा के इंतजाम में जुटे हुए हैं। ऐसे में बच्ची की सहायता के लिए स्थानीय लोग फंड जुटा रहे हैं।

दरअसल, ऑस्ट्रेलिया के मेलबर्न में 13 जनवरी को 39 साल की भारतीय मूल की पूनम शर्मा बदहवास और लहूलुहान होकर घर निकल रही थीं। वह सहायता के लिए पुकार रही थीं। मदद के लिए उन्होंने पड़ोसियों के दरवाजे खटखटाए। और जब तक उनकी कोई सहायता की जाती वह पड़ोसी के दरवाजे के सामने मरी हुई पाई गईं। उस  वक्त उनकी दो बेटियां 6 साल की वनीशा और 10 साल की एंजेला घर पर ही थीं।