कॉफी उद्योग बढ़ाने के लिए मिलकर काम करेंगे भारत, ब्राजील और दक्षिण अफ्रीका

पिछले कुछ वर्षों में निर्यात में 33 प्रतिशत की वृद्धि से भारत कॉफी का विश्व का छठवां सबसे बड़ा निर्यातक बन गया है। फेस्टिवल में इस बात को लेकर भी चर्चा की गई।

कॉफी उद्योग बढ़ाने के लिए मिलकर काम करेंगे भारत, ब्राजील और दक्षिण अफ्रीका

कॉफी बोर्ड ऑफ इंडिया ने 4 और 5 अगस्त को भारत, ब्राजील और दक्षिण अफ्रीका (IBSA) के त्रिपक्षीय सहयोग मंच के साथ दो दिवसीय 'कॉफी' फेस्टिवल का वर्चुअल आयोजन किया। इस बैठक का उद्देश्य कॉफी उद्योग के सामने आने वाली प्रमुख चुनौतियों पर चर्चा करना और उन्हें दूर करने के लिए सामूहिक प्रयास पर विचार करना था।

उद्घाटन समारोह में तीनों देशों के गणमान्य व्यक्ति और कॉफी बोर्ड के सदस्य उपस्थित थे। वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय के संयुक्त सचिव दिवाकर नाथ मिश्रा ने अपने उद्घाटन भाषण में कहा कि यह दो दिवसीय कॉफी महोत्सव सितंबर में होने वाले आईबीएसए शिखर सम्मेलन का अग्रदूत है।

"इन दिनों विश्व व्यापार संगठन के मानदंडों के कारण सरकारें कॉफी निर्यातकों और किसानों की मदद करने के लिए मजबूर हैं।" उन्होंने ऐसी बैठकों के महत्व पर जोर दिया, जहां छोटे किसानों और निर्यातकों की मदद करने के लिए कुशल समाधान के साथ विशेषज्ञों और बुद्धिजीवियों के सहयोगात्मक प्रयासों की आवश्यकता है। साथ ही जिनका व्यवसाय कोरोना महामारी के कारण प्रभावित हुआ है।