प्रवासी भारतीयों की उपलब्धियों पर आई एक पुस्तक, एक बार पढ़ तो लें

"कमला हैरिस एंड द राइज़ ऑफ़ इंडियन अमेरिकन्स" नामक इस पुस्तक में उन भारतीय प्रवासियों की उपलब्धियों का संकलन है, जिन्होंने दुनियाभर में अपनी प्रतिभा से नाम कमाया है और पूरे भारत का सिर गर्व से ऊंचा किया है।

प्रवासी भारतीयों की उपलब्धियों पर आई एक पुस्तक, एक बार पढ़ तो लें
वर्चुअल कार्यक्रम में मौजूद एमआर रंगास्वामी, तरुण बसु, राज एल गुप्ता और डॉ. मैना चावला। 

अमेरिका की उपराष्ट्रपति कमला हैरिस के ऊपर लिखी गई पुस्तक "कमला हैरिस एंड द राइज़ ऑफ़ इंडियन अमेरिकन्स" को हाल ही में जूम प्लेटफॉर्म पर वर्चुअल तरीके से विमोचन किया गया। यह पुस्तक प्रवासी भारतीय और उनकी उपलब्धियों का एक संकलन है। इसमें भारतीय प्रवासियों के इतिहास और उपलब्धियों को उद्योग के विशेषज्ञों द्वारा डॉक्यूमेंटेड किया गया है। ये विशेषज्ञ सक्रियता से लेकर शिक्षाविदों, व्यवसाय से लेकर उद्यमिता, चिकित्सा से लेकर आतिथ्य तक विभिन्न क्षेत्रों में समुदाय के विकास को ट्रैक करते हैं।

इस इवेंट को दो हिस्सों में आयोजित किया गया। पहला पुस्तक के लेखकों में से एक एम. आर. रंगास्वामी द्वारा संचालित किया गया और दूसरे सेशन में संजीव जोशीपुरा ने मॉडरेटर के रूप में काम किया। यह पुस्तक एमआर रंगास्वामी, डॉ. शमिता दास दासगुप्ता, राज एल गुप्ता, बिजल पटेल और डॉ. मैना चावला के योगदान से तैयार की गई है और इसका संपादन तरुण बसु ने किया है। इसमें भारतीय प्रवासियों के इतिहास और उपलब्धियों को उद्योग के विशेषज्ञों द्वारा डॉक्यूमेंटेड किया गया है।