काशी विश्वनाथ धाम हुआ शिवमय, 1061 शंखों का घोष, बना विश्व रिकॉर्ड

वाराणसी और काशी विश्वनाथ मंदिर के इतिहास में यह पहला मौका है जब इतनी संख्या में वादकों ने एक साथ शंखनाद किया। इसके साथ ही सामूहिक शंखनाद का विश्व रिकॉर्ड कायम हो गया। शंखनाद के दौरान मंदिर परिसर में मौजूद शिवभक्तों ने हर-हर, बम-बम का उद्घोष किया।

काशी विश्वनाथ धाम हुआ शिवमय, 1061 शंखों का घोष, बना विश्व रिकॉर्ड

भारत की पौराणिक नगरी श्री काशी विश्वनाथ धाम में नव वर्ष के पहले ही दिन एक नया कीर्तिमान बन गया। काशी विश्वनाथ धाम में पहली बार 1001 शंखों की ध्वनि गूंजी। 1061 शंखवादकों ने पीले और गेरूआ रंग के वस्त्र धारण कर शंखनाद किया। यह आयोजन श्रीकाशी विश्वनाथ धाम के मंदिर चौक में हुआ। इस दौरान भक्तों और शंखवादकों में गजब का उत्साह देखने को मिला। पूरा माहौल आध्यात्म और शिवमय हो गया।

काशी विश्वनाथ मंदिर में यह पहला मौका है जब इतनी संख्या में एक साथ शंखनाद किया। सभी फोटोः आनंद सिंह 

वाराणसी और काशी विश्वनाथ मंदिर के इतिहास में यह पहला मौका है जब इतनी संख्या में वादकों ने एक साथ शंखनाद किया। इसके साथ ही सामूहिक शंखनाद का विश्व रिकॉर्ड कायम हो गया। इससे पहले कभी भी इतनी संख्या में एक बार शंखनाद नहीं हुआ था।