ट्रंप के करीबी इस भारतीय अमेरिकी के फोन रिकॉर्ड भी गायब, मामला उलझा

पटेल उस समय रक्षा सचिव मिलर के चीफ ऑफ स्टाफ के तौर पर काम कर रहे थे। पेंटागन के वरिष्ठ अधिकारी के तौर पर उनकी नियुक्ति ट्रंप ने की थी और पटेल ने मार्क टी एस्पर की जगह ली थी।

ट्रंप के करीबी इस भारतीय अमेरिकी के फोन रिकॉर्ड भी गायब, मामला उलझा

अमेरिका में जनवरी में हुए विद्रोह को लेकर चल रही पड़ताल में कुछ खुलासे हुए हैं। पता चला है कि पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के वफादार रहे और पेंटागन के पूर्व अधिकारी तथा लंबे समय तक हाउस इंटेलिजेंस कमेटी के सहयोगी कश्यप "काश" पटेल सहित ट्रम्प के वरिष्ठ अधिकारियों के फोन संदेश हटा दिए गए थे, जो 6 जनवरी के विद्रोह और उससे जुड़ी घटनाओं पर प्रकाश डाल सकते थे।  

अमेरिकी सेना और रक्षा विभाग ने अदालत में इस तरह की जानकारी जमा कराई है। इसी के आधार पर CNN की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि ट्रंप कार्यकाल के अंतिम समय में फोन का डाटा गायब हुआ था।